DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

  प्रेमिका ने बहाने से बुलाकर कराई थी युवक की हत्या 

रायबरेली जिले के सरेनी  क्षेत्र के एक गांव के एक युवक का बीती 26 अक्टूबर को एक युवक का अपहरण हो गया था। पांच नवंबर को मथुरपुर गांव के पास गंगा नदी में मिले युवक के कपड़ों से पुलिस ने युवक की शिनाख्त की और परिजनों से पूछताछ करके उसकी प्रेमिका पर शक जाहिर किया। शक के आधार पर पुलिस ने प्रेमिका पर दबाव बनाया तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया और युवक की हत्या करने वाले दोनों आरोपियों के नाम भी बता दिए। पुलिस ने प्रेमिका और उसके दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है। पुलिस युवक के शव की तलाश गंगा नदी में कर रही है। 
 शनिवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय के किरण हाल में घटना का खुलासा करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक शशि शेखर सिंह ने बताया कि बीती 26 अक्टूबर को सरेनी थाने के मदाखेड़ा गांव के रहने वाला युवक अजय कुमार लोधी पुत्र स्व. देशराज का गांव की एक युवती के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। युवक ने युवती से शादी का दबाव बनाया तो उसने इंकार कर दिया, इस बात से आहत होकर युवक ने युवती को धमकी दी कि अगर उसने दूसरी जगह शादी की तो वह उसे जान से मार देगा। युवक की धमकी से डरी हुई प्रेमिका ने अपने दूसरे साथियों से बताया और उसकी हत्या कराने की साजिश रची। बाद में प्रेमिका ने बहाने से युवक को अपने घर के पीछे बुलाया और अपने दो साथी अनुज कुमार पासी पुत्र पूसू निवासी बाबा का पुरवा व अमित कुमार पुत्र गुरुदयाल निवासी चित्ता का पुरवा मजरे मथुरपुर थाना सरेनी ने गमछे से उसका गला दबा दिया और उसके शव को कंधे पर रखकर करीब एक किलोमीटर दूर ले जाकर उसे गंगा नदी में फेंक दिया। मृतक अजय कुमार का मोबाइल व अन्य सामान भी नदी में फेंक दिया। 
बीती पांच नवंबर को मथुरपुर गांव के पास गंगा नदी में युवक के कपड़े मिलने के बाद आशंका हुई तो पुलिस ने मामले की छानबीन शुरु की तो पूरा मामला स्पष्ट हो गया। युवती ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। एएसपी ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करके जेल भेज दिया गया है। टीम में एसओ राकेश कुमार सिंह, एसआई अहमद अली, राजेश कुमार यादव आदि रहे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Girlfriend summoned by the excuse to kill the young man