अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाराबंकी में खतरे के निशान के करीब पहुंची घाघरा नदी

बारिश ने घाघरा नदी का जल स्तर भी बढ़ा दिया है। हालांकि नदी अभी खतरे के निशान से काफी दूर है। मगर नदी का पानी फैलाव में बढ़ा है और कचनापुर गांव के किनारे तक आ गया है। नदी अगर बढ़ती रही तो खतरे के निशान को छू भी सकती है। बीते दिनों नदी का जल स्तर काफी कम था जिससे नदी पेटे में थी मगर दो दिनों से हो रही बारिश तथा पहाड़ों पर हुई बारिश ने घाघरा का जल स्तर बढ़ा दिया है। नदी खतरे से तो साठ सेमी दूर है मगर पहले की तुलना में जल स्तर बढ़ा है। शुक्रवार को घाघरा का जल स्तर 105 ़746 सेमी आंका गया जो खतरे के निशान 106 ़07 सेमी से करीब 60 सेमी कम है ।

घाघरा बढी तो बाढ़ से घिरेंगे दो दर्जन से अधिक गांव: घाघरा नदी का जल स्तर अगर बढ़ता रहा और नेपाल से पानी छोड़ दिया गया तो नदी खतरे के निशान के पार भी पंहुच जाएगी। नदी की बाढ़ आने पर तराई के गांवों में रहने वाले लोगों की जिंदगी खानाबदोश बनकर रह जाती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ghaghra river reached near the danger mark in Barabanki