ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश लखनऊचलती ट्रेन में मैसेज भेजकर साफ कराएं टॉयलेट-गलियारे

चलती ट्रेन में मैसेज भेजकर साफ कराएं टॉयलेट-गलियारे

चलती ट्रेन में यात्रियों को गंदगी से सिर्फ एक मैसेज भेजने से चंद मिनटों में छुटकारा मिलेगा। पूर्वोत्तर रेलवे ने ओबीएचएस यानी ऑनबोर्ड हाउसकीपिंग...

चलती ट्रेन में मैसेज भेजकर साफ कराएं टॉयलेट-गलियारे
हिन्दुस्तान टीम,लखनऊSun, 28 Jan 2024 09:05 PM
ऐप पर पढ़ें

चलती ट्रेन में यात्रियों को गंदगी से सिर्फ एक मैसेज भेजने से चंद मिनटों में छुटकारा मिलेगा। पूर्वोत्तर रेलवे ने ओबीएचएस यानी ऑनबोर्ड हाउसकीपिंग सर्विस सुविधा शुरू की है। इसके तहत चलती ट्रेन में कोच के शौचालय, दरवाजे और गलियारों की सफाई होगी। सुविधा सबसे पहले राजधानी, शताब्दी समेत लंबी दूरी की मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में शुरू होगी।

करीब 1090 जोड़ी ट्रेनों में ऑनबोर्ड हाउसकीपिंग सेवा के अंतर्गत पूर्वोत्तर रेलवे के 61 ट्रेनों में शुरुआत होगी। इससे ट्रेनों में कॉकरोच, मच्छर, कीड़े आदि से यात्रियों को छुटकारा मिलेगा। पूर्वोत्तर रेलवे के डीआरएम आदित्य कुमार ने कहा कि लखनऊ मंडल के स्टेशनों पर 71 पासिंग गाड़ियों के ठहराव के दौरान साफ-सफाई के साथ 61 ट्रेनों में यात्रा के दौरान ओबीएचएस से सफाई होगी।

क्या है ओबीएचएस तकनीक

ट्रेन चलने के दौरान कोचों की सफाई के लिए ऑन बोर्ड हाउसकीपिंग सेवा (ओबीएचएस) दी जाती है। ओबीएचएस में दिन में दो बार कोचों की निर्धारित सफाई और यात्री की मांग पर किसी भी समय अनिर्धारित सफाई शामिल है।

ऐसे उठा सकते हैं फायदा

यात्री को चलती ट्रेन में 58888 पर पीएनआर नंबर मैसेज करना होगा। इसके बाद यह नंबर रेलवे कंट्रोल रूम जाएगा। वहां से एक कोड संबंधित यात्री के फोन पर आएगा। कुछ देर में सफाईकर्मी कोच में आकर सफाई करेगा।

डालीगंज से मल्हौर डबल लाइन पर ट्रेनें भरेंगी रफ्तार

डालीगंज से मल्हौर तक 12 किमी रेलवे ट्रैक का विद्युतीकरण और दोहरीकरण पूरा हो गया है। जल्द ही इस लाइन पर ट्रेनों का संचालन तेजी से होने लगेगा। करीब डेढ़ सौ करोड़ से तैयार डबल लाइन से ट्रेनों को रफ्तार मिलेगी। इस लाइन के बनने से बादशाहनगर, डालीगंज और गोमतीनगर स्टेशन पर ट्रेनों को सिग्नल मिलने में ज्यादा समय नहीं लगेगा।

लखनऊ के चार स्टेशन सबसे पहले बनेंगे

अमृत भारत स्टेशन योजना के अंतर्गत रेलवे के 508 रेलवे स्टेशनों को हाइटेक किया जाएगा। इसी क्रम में 19 स्टेशन चुने गए हैं। इनमें पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के चार स्टेशनों में ऐशबाग, बादशाहनगर, सीतापुर और बस्ती के स्टेशनों सौन्दर्यीकरण, यात्री सुविधाओं का विस्तारीकरण और निर्माण कार्यों पहले पूरा किया जाएगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें