DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एफएसडीए ने दूसरे दिन भी की छापेमारी

मिलावटी सरसों के तेल पर रोकथाम के लिए एफएसडीए ने बुधवार को भी ताबड़तोड़ छापेमारी की। कई स्थानों पर बड़ी ब्रांडों के तेल का नमूना लेकर जांच के लिए भेजा गया। साथ ही स्पेंसर समेत कई बड़े स्टोर से भी नमूने लिए गए हैं।

मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी सुरेश कुमार मिश्र ने बताया कि कई जिलों में ड्रॉप्सी के लक्षण मिलने के बाद डीएम के निर्देश पर यह कार्रवाई की जा रही है। बुधवार को छह नमूने लिए गए। इनमें प्रभात, डबल सिक्का, बैल कोल्हू, टाइगर, हाथी और स्पेंसर ब्रांड के सरसों के तेल के नमूने शामिल है। एक से लेकर पांच लीटर वाले कैन को भी खुलवाकर नमूने हासिल किए गए। सरसों के तेल में आर्जिमोन यानी सत्यानाशी की मिलावट के कारण ड्रॉप्सी होता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:fsda