fraud case - मशीन और कारोबार के नाम पर लाखों रुपये हड़पे DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मशीन और कारोबार के नाम पर लाखों रुपये हड़पे

default image

लखनऊ। वरिष्ठ संवाददाता

महानगर के न्यू हैदराबाद में रहने वाले कारोबारी हर्ष अग्रवाल ने प्रिन्टिंग प्रेस के मालिक जय पाण्डेय और आशीष त्रिपाठी पर लाखों की ठगी का आरोप लगाते हुए महानगर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है। हर्ष का कहना है कि आरोपियों ने उनसे प्रिन्टिंग मशीन खरीद कर पूरा भुगतान नहीं किया। इसके बाद साझेदारी में भी धोखा दिया। हर्ष का दावा है कि उनके पास आरोपियों के खिलाफ कई साक्ष्य हैं, जो उन्होंने पुलिस को सौंपे हैं।

न्यू हैदराबाद के गोयल अपार्टमेंट में रहने वाले हर्ष अग्रवाल की फैजाबाद रोड पर गौरी इंटरप्राइजेज नाम से प्रिन्टिंग प्रेस है। हर्ष ने बताया कि उनकी आशीष त्रिपाठी से 15 साल पुरानी जान-पहचान थी। जून 2018 में आशीष ने उनकी मुलाकात जय पाण्डेस से करायी। उसने पांच लाख रुपये में उनकी फ्लैक्स प्रिन्टिंग मशीन जय पाण्डेय को बेचने के लिए कहा। जिसका सौदा 18 प्रतिशत जीएसटी के साथ तय हुआ। आरोप है कि जय ने उन्हें सिर्फ डेढ़ लाख रुपये दिए जबकि शेष रकम मशीन पहुंचने पर देने को कहा। आशीष के गारंटी लेने पर उन्होंने मशीन भिजवा दी लेकिन बाकी का भुगतान नहीं मिला। हर्ष के मुताबिक इस दौरान उन्हें कुम्भ मेले में प्रचार-प्रसार का ठेका मिला। इस पर आरोपियों ने साथ मिलकर काम करने की बात कही और आश्वासन दिया कि इस तरह से उनकी बकाया रकम भी चुकता हो जाएगी। हर्ष का कहना है कि काम के सिलसिले में वह लगातार प्रयागराज में रहे और अपने नाम से आरोपियों को सामग्री दिलवाते रहे। इस बीच आशीष ने बहाना बनाकर उनसे 6 लाख 91 हजार रुपये का चेक ले लिया और बिना उनकी अनुमति के इसे बैंक में लगा दिया। अंत में उन्होंने हिसाब करने के लिए कहा तो आशीष और जय ने उलटा उन पर रुपये बकाया होने की बात कहकर धमकाना शुरू कर दिया। हर्ष ने बताया कि उन्होंने 21 अगस्त को ही आरोपियों के खिलाफ महानगर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। बाद में जय पाण्डेय ने उनके खिलाफ अलीगंज थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:fraud case