अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व सांसद, माकपा नेता सुभाषिनी समर्थकों समेत गिरफ्तार,रिहा 

1 / 2

2 / 2

PreviousNext

अखण्डनगर ब्लॉक के राहुल नगर में माकपा व डीवाईवाई एफआई की ओर से आयोजित हुए शहीद मेले में सभा करने जा रही पूर्व सांसद व माकपा पोलिट ब्यूरो सदस्य सुभाषिनी अली को मंगलवार को पुलिस ने समर्थकों समेत यहां गिरफ्तार कर लिया। करीब पांच घंटे तक बिजली विभाग के गेस्ट हाउस में रखने के बाद छोड़ा। 
गिरफ्तारी से पहले पार्टी आफिस में एडीएम ई हर्षदेव पांडेय  व एएसपी मीनाक्षी कात्यायन ने सुभाषिनी को जिले में धारा 144 लागू होने, सभा के लिए अनुमति नहीं होने की जानकारी दी। वहां न जाने का अनुरोध किया। पर, सुभाषिनी और उनके साथी राजी हुए। नियमों को तोड़ते हुए अपराह्न पौने दो बजे, रोडवेज के पास स्थित पार्टी आफिस से राहुल नगर जाने के लिए निकली। पुलिस ने उन्हें और उनके समर्थकों को घेरे में ले लिया।

इसे भी जानिए    

अखण्ड नगर के राहुल नगर में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी और जनवादी नवजवान सभा की ओर से पिछले 13 वर्षों से पार्टी कार्यकर्ता स्व. राधेश्याम यादव व स्व.संजय यादव की पुण्यतिथि पर 11 सितम्बर को शहीद मेले का आयोजन करते आ रहें हैं। मेले में सभा के माध्यम से दोनों दिवंगत कार्यकर्ताओं को श्रद्धांजलि दी जाती है। पार्टी का कोई न कोई बड़ा नेता इसमें हर वर्ष शामिल होता है।  माकपा पोलिट ब्यूरो सदस्य प्रकाश करात ने इनकी आदमकद प्रतिमा की स्थापना राहुल नगर चौराहे पर कराई थी। इधर, 25 दिसम्बर 2018 को राधेश्याम व संजय की हत्या में नाम आने वाले की  हत्या हो गई। इस पर कुछ आक्रोशित लोगों ने दोनो प्रतिमा को तोड़ दिया था। तभी से माकपा प्रशासन से मांग की जा रही है कि दोनों की प्रतिमा फिर से लगाई जाए। मगर प्रशासन ने घटना की गम्भीरता को देखते हुए मामले को ठण्डे बस्ते में डाल दिया। पार्टी ने 11सितम्बर को दोनों की पुण्यतिथि पर प्रतिमा स्थापित करने की तैयारी की। मगर, प्रशासन से प्रतिमा स्थापित करने और सभा करने की अनुमति नहीं दी। प्रशासन ने जिले में धारा 144 लागू होने,प्रतिमा स्थापित करने के साथ सभा करने की अनुमति नहीं होने का हवाला दिया।  मंगलवार को दोपहर मुख्य अतिथि पूर्व सांसद सुभाषिनी अली व राज्य सचिव हीरालाल पार्टी पार्टी के जिला आफिस पहुंचे। प्रशासन ने पार्टी आफिस पुलिस तैनात कर दी। 
 एडीएम ई और एसपी सिटी से दो चक्र की वार्ता में सहमति नहीं बनी और पार्टी नेताओं के साथ कार्यक्रम स्थल जाने को आफिस से निकली सुभाषिनी और उनके समर्थकों को पुलिस ने घेर कर गिरफ्तार कर लिया। एसपी सिटी ने अपने सरकारी वाहन में सुभाषिनी को ले गईं। समर्थकों समेत उन्हें बिजली विभाग के गेस्ट हाउस में रखने के बाद शाम को सभी को रिहा कर दिया गया। उनके साथ पार्टी के राज्य सचिव हीरालाल, जिला सचिव नरोत्तम शुक्ल डीवाईएफआई के जिला  सचिव शशांक पाण्डेय, एसएफआई के प्रदेश अध्यक्ष विवेक विक्रम सिंह, महेश तिवारी भी थे। उधर,पूर्व विधायक दीनानाथ सिंह ने आरोप लगाया कि राहुल नगर में सभा के साथ मेले को भी पुलिस ने रोक दिया है। दुकानदारों को डराकर मेला भी नहीं लगने दिया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Former MP CPI M leader Subhashini bail