DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वन विभाग में 3 कर्मचारियों को जबरन वीआरएस

प्रमुख संवाददाता- राज्य मुख्यालय वन विभाग के आजमगढ़ वन प्रभाग में तैनात स्टेनोग्राफर, ड्राइवर समेत वाराणसी की सांख्यिकी अधिकारी रेखा जायसवाल को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति दे दी गई है। इन तीनों के खिलाफ कई तरह की शिकायतों के अलावा सर्विस बुक में प्रतिकूल प्रविष्ठियां थीं। राज्य सरकार ने केन्द्र सरकार के आदेश के अनुपालन में उन कर्मचारियों-अधिकारियों को रिटायर करने का फैसला किया है जिनकी उम्र 50 वर्ष के ऊपर है और उनकी कार्यक्षमता संतोषजनक नहीं है। वन विभाग ने अराजपत्रित कर्मचारियों से इसकी शुरुआत की है और 3 कर्मचारियों को वीआरएस दे दी है। इनकी सर्विस बुक में दो से ज्यादा प्रतिकूल प्रविष्ठियां थीं और अधिकारियों ने इन पर सरकारी कामकाज में लापरवाही बरतने के आरोप लगाए थे। इसके अलावा विभाग ने अधिकारियों की सूची भी शासन को भेज दी है। इसमें रेंजरों के नाम शामिल हैं। हालांकि इन पर निर्णय शासन लेगा। सभी विभाग 50 वर्ष से ऊपर के उन अधिकारियों व कर्मचारियों की सूची तैयार कर रहा है जो कामकाज में अक्षम हैं और उन पर भ्रष्टाचार या अन्य तरह के आरोप हैं। इसमें उनकी सर्विस बुक खंगाली जा रही है और उनकी प्रतिकूल प्रविष्टियां देखी जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Forcibly VRS to 3 employees in forest department