DA Image
25 जनवरी, 2020|4:38|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बलरामपुर : पुरानी रंजिश में चलीं गोलियां,दो लग्जरी गाड़ियां जलाई, दो युवक घायल

बलरामपुर जिले के तुलसीपुर में मिल चुंगीनाका के पास पुरानी रंजिश को लेकर दो गुट आपस में भिड़ गए। एक गुट ने गोलियां चलाई, जिसमें दो युवक गंभीर रूप से घायल हुए हैं। दूसरे गुट के लोगों ने दो लग्जरी गाडि़यों को जला डाला। पुलिस ने एक पक्ष से तहरीर मिलने पर पांच लोगों के विरुद्ध बलवा व हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया है। दूसरे पक्ष की तहरीर पुलिस को नहीं मिली है। घायलों को लखनऊ रेफर किया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार दिसम्बर 2018 में वैरागीपुरवा निवासी अरविंद सिंह उर्फ मलखान व तुलसीपुर सुगर फैक्ट्री निवासी श्याम बहादुर सिंह के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया था। दोनों के बीच गोलीबारी व मारपीट होने की बात कही जा रही है। किसी भी पक्ष ने थाने में तहरीर नहीं दी थी। बाद में दोनों पक्ष सुलह हो गए थे। बताया जाता है कि दोनों पक्ष सत्तादल के काफी करीबी हैं। सुलह होने के बावजूद दोनों पक्षों में अंदर ही अंदर बदले की ज्वाला सुलग रही थी लेकिन उनके बीच बातचीत होती थी।

बताया जाता है कि सुगर फैक्ट्री निवासी श्याम बहादुर सिंह (28) पुत्र देवेन्द्र बहादुर अपने रिश्तेदार ग्राम कंडोला थाना मइल जिला देवरिया निवासी विनय सिंह (30) पुत्र धीरेन्द्र प्रताप सिंह के साथ मिल चुंगीनाका चौराहा पर मौजूद थे। मिली जानकारी के अनुसार श्याम बहादुर ने पुरानी बाजार निवासी सत्यम श्रीवास्तव पुत्र अनुपम लाल को फोन करके चौराहे पर बुलाया। सत्यम उस समय दावत में थे इसलिए चौराहा पहुंचने में देरी हो गई। सत्यम अपने दोस्त मलखान, उनके भाई चंचल, अर्जुनपुर निवासी शिशिर सिंह उर्फ विकास पुत्र रजवंत व नई बाजार निवासी पंकज पुत्र देवेन्द्र जायसवाल के साथ दो गाडि़यों से रात करीब 11 बजे चौराहा पहुचे। श्याम बहादुर ने देर होने का कारण पूछा जिसे लेकर दोनों में कहासुनी हो गई।

समझौता के बाद संबंधियों के पहुंचने पर हुआ बवाल

बताते हैं कि श्याम बहादुर ने विवाद होने की जानकारी घरवालों को दे दी थी। बाद में दोनों पक्ष के लोगों ने साथ में चाय पी। हंसी-मजाक भी किया। इसी बीच श्याम बहादुर सिंह के पक्षकार गाड़ी में सवार होकर मौके पर आ गए। कहासुनी के बाद दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गई। एक पक्ष के लोगों ने गोलियां चलानी शुरू कर दी जबकि दूसरे पक्ष के लोग लोहे की राड से वार करने लगे। इसी बीच विनय सिंह की पीठ में गोली घुस गई। श्याम बहादुर की बांह में गोली लगी जिससे वह गिर गए। दूसरे पक्ष के लोग गाडि़यां छोड़कर भाग निकले। मारपीट में दूसरे पक्ष के लोगों का सिर फटने की बात कही जा रही है। श्याम बहादुर व विनय को सीएचसी ले जाया गया। हालत गंभीर देखकर उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया। गुस्साए लोगों ने दोनों लग्जरी गाडि़यों को जला दिया। गोलीबारी व आगजनी की घटना से डरे लोग घरों में दुबक गए। चीनी मिल निवासी अमर प्रताप सिंह पुत्र धर्मेन्द्र की तहरीर पर अरविंद उर्फ मलखान, उनके भाई चंचल, शिशिर उर्फ विकास, सत्यम श्रीवास्तव व पंकज के विरुद्ध केस दर्ज हुआ है। अमर प्रताप का कहना है कि सभी लोग मेरे चाचा व मामा का सुनियोजित ढंग से हत्या करने आए थे। प्रभारी निरीक्षक वकील पांडेय ने बताया कि अभियुक्तों की तलाश की जा रही है। घायलों का इलाज लखनऊ में चल रहा है। उनकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Firing in Balrampur two luxury vehicles burnt two youth injured