ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश लखनऊपुनर्वास विवि में प्रदर्शन के दौरान छात्रों में मारपीट, दो छात्राओं समेत चार दिव्यांग चोटिल

पुनर्वास विवि में प्रदर्शन के दौरान छात्रों में मारपीट, दो छात्राओं समेत चार दिव्यांग चोटिल

फोटो::: - धक्कमुक्की से एक छात्रा के सिर में चोट आई - विवि की

पुनर्वास विवि में प्रदर्शन के दौरान छात्रों में मारपीट, दो छात्राओं समेत चार दिव्यांग चोटिल
हिन्दुस्तान टीम,लखनऊThu, 30 Nov 2023 11:30 PM
ऐप पर पढ़ें

फोटो:::

- धक्कमुक्की से एक छात्रा के सिर में चोट आई

- विवि की एंबुलेंस से भेजा गया ट्रामा सेंटर

- एसडीएम को 22 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा

- दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन

लखनऊ, संवाददाता।

डॉ. शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय में चौथे दिन गुरुवार को भी दिव्यांग छात्र अपनी मांगों को लेकर मुख्य द्वार को बंद कर प्रदर्शन कर रहे थे। तभी मुख्य द्वार फांद कर अंदर पहुंचे विवि के अन्य छात्रों ने जबरदस्ती गेट खोलने का प्रयास किया। इस पर प्रदर्शन कर रहे दिव्यांग छात्रों ने विरोध किया। विरोध के दौरान छात्रों में धक्का-मुक्की होने लगी जिसमें एक दिव्यांग छात्रा के सिर में चोट आई। मारपीट में एक अन्य छात्रा व दो दिव्यांग छात्रों को भी चोटें आई हैं।

पुनर्वास विश्वविद्यालय में सोमवार से दिव्यांग छात्र प्रॉक्टर शेफाली यादव को हटाने, सीसीटीवी कैमरे लगवाने, शुद्ध पेयजल, रिकॉर्डर व्यवस्था सहित कई मांगों को लेकर विवि का मुख्य गेट बंद कर प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रदर्शन के चौथे दिन छात्र आशीष जाटव, राहुल यादव, अंकुर कुमार, तबस्सुम, अर्जुन प्रजापति, विजय शर्मा, पवन मिश्रा, राज भारती ने आरोप लगाया कि अपनी मांगों को लेकर शांति पूर्वक गेट बंद कर प्रदर्शन कर रहे थे तभी विश्वविद्यालय प्रशासन की मौजूदगी में बीकॉम एलएलबी के अन्य सामान्य छात्र आए और जबरन गेट खोलने लगे। विरोध करने पर डीएएड द्वितीय वर्ष की दिव्यांग छात्रा पूजा गौड़, मानसी, हरिओम व आशीष जाटव की पिटाई कर दी। मारपीट में पूजा गौड़ के सिर में गंभीर चोट आ गई और बेहोश हो गई। जिसे एम्बुलेंस से लोकबंधु भिजवाया। जहां डाक्टरों ने उसे ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया। साथ ही आरोप लगाया कि लॉ फैकल्टी के छात्र चीफ प्रॉक्टर के कहने पर आए थे और मारपीट की। देर शाम तक छात्र चीफ प्रॉक्टर शेफाली यादव को हटाने व मारपीट करने वाले दोषी छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर अड़े रहे और सैकड़ों की संख्या में विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन जारी रखा। छात्रों ने प्रणव, यज्ञ, गौरव सिंह, प्रशांत और आशुतोष सहित अज्ञात लोगों पर मारपीट का आरोप लगाया है।

एसडीएम को 22 सूत्रीय मांग पत्र सौंपा

शाम को एसडीएम सरोजनीनगर सचिन वर्मा ने विवि पहुंच कर छात्रों से वार्ता की। जहां छात्र अपनी मांगों को लेकर अड़े रहे। वहीं एसडीएम सचिन वर्मा ने छात्रों से लिखित ज्ञापन मांगा। कहा कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं छात्रों ने 22 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन एसडीएम सरोजनीनगर सचिन वर्मा को सौंपा।

विवि का पक्ष--

अचानक गेट खुलने पर एक बच्ची धक्कामुक्की से गिर गई। जिसे विवि की एंबुलेंस से ट्रामा सेंटर भेजा गया था। वहां डॉक्टरों ने उसे बिल्कुल फिट बताया। इसके बाद वह एंबुलेंस से दोबारा वापस आ गई।

- डॉ. यशवंत वीरोदय (प्रवक्ता)

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें