DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व सांसद पर लगा किसान नेता से रंगदारी मांगने का आरोप

किसान नेता से मांगे गए पचास लाख रुपए

आगरा एक्सप्रेसवे के लिए अधिग्रहित हुई जमीन का मुआवजा हड़पने का आरोप

लखनऊ। निज संवाददाता

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजू गुप्ता ने जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह पर पचास लाख रुपए की रंगदारी मांगने का आरोप लगाया है। किसान नेता ने जानकीपुरम थाने में इस सम्बन्ध में एफआईआर दर्ज कराई है। जिसमें पूर्व सांसद को नामजद किया गया है। वहीं, धनंजय सिंह ने किसान नेता द्वारा लगाए गए आरोपों को राजनीति से प्रेरित होने की बात कही है।

सेक्टर-आई जानकीपुरम निवासी राजा राम गुप्ता उर्फ राजू गुप्ता भाकियू (अवध) के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि पिछली सरकार में बने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे के लिए किसानों की जमीन अधिग्रहित की गई थी। उनके मुताबिक कुछ लोगों ने फर्जी कागज तैयार कर किसानों को मिलने वाले मुआवजे के दस करोड़ रुपए हड़प लिए थे। इसकी जानकारी होने पर उन्होंने संगठन के जरिए शासन व प्रशासन स्तर पर शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके कारण जालसाजों को भारी नुकसान हो रहा था। आरोप है कि आरोपितों ने उनसे बदला लेने के लिए पूर्व सांसद धनंजय सिंह से सम्पर्क किया था।

फोन से धमकाया, पचास लाख मांगे

राजू गुप्ता के अनुसार जालसाजों उन्हें पैरवी करने पर धमकाया था। पर, वह पीछे नहीं हटे। इस पर उन्हें पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने फोन किया। कहा गया कि आगरा एक्सप्रेसवे वाले मामले से पीछे हट जाओ। राजू के मुताबिक पूर्व सांसद ने उन्हें पचास लाख रुपए लेकर घर आने के लिए कहा। जिसका उन्होंने विरोध किया। आरोप है कि रुपए देने से मना करने पर धनंजय सिंह ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी।

एएसपी के आदेश पर दर्ज हुई एफआईआर

पचास लाख रुपए की रंगदारी मांगे जाने की शिकायत किसान नेता ने जानकीपुरम थाने में की थी। उनके मुताबिक तहरीर देने के बाद भी पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। इस पर राजू गुप्ता ने एएसपी ट्रांसगोमती हरेन्द्र कुमार से मुलाकात कर घटना के बारे में बताया। जिसके बाद एएसपी के निर्देश पर जानकीपुरम पुलिस ने पूर्व सांसद धनंजय सिंह के खिलाफ रंगदारी मांगने, जाली दस्तावेज तैयार करने व धमकी देने की धारा में एफआईआर दर्ज की है।

आगरा एक्सप्रेसवे से मेरा कोई वास्ता नहीं

रंगदारी मांगने के आरोपों को पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने राजनीति से प्रेरित करार दिया है। उनके मुताबिक लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे के लिए अधिग्रहित की गई जिस जमीन का जिक्र राजू गुप्ता कर रहे हैं। उससे उनका व उनके परिचितों का कोई सरोकार नहीं है। धनंजय सिंह ने जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा को इस सम्बन्ध में एक पत्र लिख कर मामले की जांच कराए जाने की मांग की है। डीएम को भेजे गए पत्र में उन्होंने किसान नेता राजू गुप्ता को भूमाफिया बताते हुए किसान नेता कमलेश मौर्या के शिकायती पत्र पर एफआईआर दर्ज कराने की मांग की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:farmer neta thretan by former mp