DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  लखनऊ  ›  व्यापारी की कोरोना से मृत्यु होने पर 10 लाख का बीमा परिजनों को मिले
लखनऊ

व्यापारी की कोरोना से मृत्यु होने पर 10 लाख का बीमा परिजनों को मिले

हिन्दुस्तान टीम,लखनऊPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:50 PM
व्यापारी की कोरोना से मृत्यु होने पर 10 लाख का बीमा परिजनों को मिले

- लखनऊ व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने वाणिज्य कर विभाग के एडीशनल कमिश्नर ग्रेट-1 से मुलाकात की

- व्यापारियों ने सभी रिटर्न को दाखिल करने की तारीख 30 सितंबर करने की मांग की

लखनऊ। वरिष्ठ संवाददाता

लखनऊ व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने गुरुवार को वाणिज्य कर विभाग के एडीशनल कमिश्नर ग्रेट-1 से मीराबाई मार्ग स्थित कार्यालय में मुलाकात की। इस मौके पर संगठन के वरिष्ठ महामंत्री अमरनाथ मिश्रा ने कहा कि जीएसटी में पंजीकृत व्यापारियों को मिलने वाले 10 लाख के दुर्घटना बीमा को कोरोना महामारी से कवर करते हुये व्यापारी की मृत्यु होने पर विभाग द्वारा 10 लाख का बीमा लाभ परिजनों को दिया जाये।

उन्होंने कहा कि 15 जून को सहादतगंज पुलिस द्वारा चांदी के कारोबारी को रोका गया था। जिसके बाद एडीशनल कमिश्नर केके उपाध्याय के हस्तक्षेप के बाद व्यापारी को छोड़ा गया। उन्होंने कहा कि बिल बीजक के साथ माल ले जाना क्या कोई अपराध है। उन्होंने बताया कि पूर्व डीजीपी विक्रम सिंह ने एक आदेश किया था कि बिल बीजक का माल पुलिस को चेक करने का अधिकार नहीं है।

इस पर एडिशनल कमिश्नर उपाध्याय ने विभाग की तरफ से पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखने की बात कही। वहीं एडिशनल कमिश्नर ने पदाधिकारियों से अपील की सरकार के द्वारा चलाई जा रही ब्याज माफी योजना का अधिक से अधिक व्यापारी लाभ उठाएं। उन्होंने कहा कि मार्च-अप्रैल के तमाम व्यापारियों ने अभी तक जीएसटी रिटर्न फाइल नहीं किए हैं। उन्हें जागरूक कर जल्द से जल्द रिटर्न फाइल करने के लिए प्रेरित करें।

संबंधित खबरें