अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जोनल अधिकारी की निगरानी में होगी फागिंग

लखनऊ। प्रमुख संवाददाता

फागिंग में हो रही लापरवाही को नगर आयुक्त ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने ने जोनल अधिकारियों की निगरानी में फागिंग कराने का निर्देश दिया है। हर दिन आपूर्ति होने वाले डीजल-पेट्रोल की मानीटरिंग व बजे ईंधन को चेक करने का जिम्मा भी जोनल अधिकारियों को दिया है। फागिंग में हो रही लापरवाही को हिन्दुस्तान ने 13 अप्रैल के अंक में ‘फगिंग में रोजाना लाखों का खेल, मच्छर बेकाबू शीर्षक से प्रमुखता से प्रकाशित किया था। उसे संज्ञान लेते हुए नगर आयुक्त ने सोमवार को लिखित आदेश जारी किया है।

खबर को संज्ञान में लेते हुए नगर आयुक्त ने उदयराज सिंह ने उसी दिन मौखिक आदेश जारी कर दिया था लेकिन सोमवार को लिखित आदेश जारी कर अक्षरश: पालन करने का निर्देश दिया है। उन्होंने अपने आदेश में कहा है कि फागिंग में लापरवाही बर्दाश्त नहीं है। कार्यशाला से निकलने वाले वाहनों में डीजल व पेट्रोल पम्प की आपूर्ति नगर स्वास्थ्य अधिकारी या उनके नामित अधिकारी की देखरेख में पेट्रोल पम्प से की जाएगी। एक लाग बुक में वाहन को परिवहन के लिए व दूसरे लाग बुक में फागिंग के लिए डीजल-पेट्रोल की मात्रा को अंकित किया जाएगा। पेट्रोल पम्प से रोस्टर के अनुसार जोनल कार्यालयों में वाहन जाएंगे जहां जोनल अधिकारी डीजल-पेट्रोल को चेक करके लागबुक को एक बार फिर सत्यापित करेंगे। वह अपने सामने समस्त वाहनों में फागिंग केमिकल डलवाएंगे। फागिंग के बाद वाहनों को एक बार फिर जोलन कार्यालय पर डीजल-पेट्रोल को चेक किया जाएगा और बचे डीजल-पेट्रोल को लागबुक में अंकित करेंगे। अगले दिन ईधन की अवशेष मात्रा को समायोजित करके फागिंग के लिए वाहनों को डीजल व पेट्रोल मुहैया कराया जाएगा। उन्होंने फागिंग का रोस्टर जनप्रतिनिधियों व पार्षदों को उपलब्ध कराने का भी निर्देश दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Falgun will be under the supervision of Zonal Officer