अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फैजाबाद : गन्ना समिति निदेशक समेत तीन गैंगस्टरों को उम्रकैद

Faizabad, BDC member, candidate, murder 

बीकापुर कोतवाली क्षेत्र में बीडीसी चुनाव की रंजिश को लेकर प्रत्याशी चन्द्रभान तिवारी पर तलवार और बांका से जानलेवा हमला कर  हत्या के बहुचर्चित मामले में सपा नेता व गन्ना समिति मसौधा के डायरेक्टर महादेव यादव व उनके दो समर्थकों गंगाराम वर्मा और काशीराम यादव को आजीवन कारावास की सजा से दण्डित किया गया। साथ ही प्रत्येक गैंगस्टर आरोपित पर 15 हजार रुपए जुर्माना लगाया गया।
यह फैसला विशेष गैंगस्टर न्यायाधीश हरिनाथ पाण्डेय ने गुरुवार को भारी अदालत में सुनाया। इसके बाद कड़ी सुरक्षा के बीच तीनों गैंगस्टर आरोपितों को जेल भेजने का आदेश दिया। फैसले के पूर्व तीनों गैंगस्टर आरोपितों ने गुरुवार को न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया था। घटना बीकापुर कोतवाली अन्तर्गत जेरूआ भावापुर गांव की 15 साल पूर्व वर्ष 2013 की है। अभियोजन पक्ष के मुताबिक 25 मई वर्ष 2003 की रात नौ बजे  बीडीसी का चुनाव लड़ चुके पूर्व प्रत्याशी चन्द्रभान तिवारी अपनी आटा चक्की से  घर जा रहे थे। तभी रास्ते में घात लगाकर बैठे गन्ना समिति मसौधा के डायरेक्टर महादेव यादव ने अपने दो अन्य साथियों गंगाराम व काशीराम के साथ चन्द्रभान तिवारी पर बांका और तलवार से हमला कर मौत के घाट उतार दिया। पूर्व प्रत्याशी के घर न पहुंचने पर तलाश की गई तो उनकी लाश जेरुआ भावापुर के पास पड़ी थी।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Faizabad: Three gangsters including the sugarcane committee director were sentenced to life imprisonment