अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फैजाबाद : विधायक के रिश्तेदार से मारपीट में ब्लाक प्रमुख के लखनऊ आवास पर छापा

विधायक के रिश्तेदार से मारपीट में ब्लाक प्रमुख के लखनऊ आवास पर छापा

ताबड़तोड़ दबिश

भाजपा विधायक गोरखनाथ के ममेरे भाई 30 जुलाई को हुई थी मारपीट

आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए बनाई गई है कई टीम

फैजाबाद | हिन्दुस्तान संवाद

भाजपा विधायक गोरखनाथ के ममेरे भाई से मारपीट के मामले में आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस की कार्रवाई लगातार जारी है। ताबड़तोड़ हो रही छापेमारी के बीच पुलिस टीम ने तीसरे दिन रविवार को ब्लाक प्रमुख शिल्पी सिंह के लखनऊ स्थित आवास पर छापा मारा। इस छापेमारी के लिए पुलिस ने बाकायदा होमवर्क कर रखा था।

सियासी बन चुके इस प्रकरण में रोज नए मोड़ आ रहे हैं। पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सभी संभावित स्थानों पर छापेमारी कर रही है लेकिन रविवार को पुलिस की ओर से की गई छापेमारी की कार्रवाई बेहद चौंकाने वाली रही। पुलिस टीम ने रुदौली ब्लाक प्रमुख के लखनऊ में शहीद पथ के अंसल अपार्टमेंट में स्थित आवास पर छापा मारा। खास बात यह रही कि पुलिस ने पहले से ही उनके आवास की घेराबंदी कर रखी थी और दोपहर में ब्लाक प्रमुख के आवास में प्रवेश करते ही पुलिस ने उनके घर में छापा मार दिया। पुलिस की ओर से छापेमारी की यह कार्रवाई जिले में भी जारी रही। पुलिस टीम ने जिले के थाना महाराजगंज स्थित देवगढ़ में ब्लाक प्रमुख शिल्पी सिंह के पति सर्वजीत सिंह के मित्र मुन्ना सिंह के आवास पर भी छापा मारा। हालांकि पुलिस को कोई सफलता हाथ नहीं मिली। मालूम हो कि 30 जुलाई की देर रात साढे़ नौ बजे कैंट थाना क्षेत्र के बढ़ई का पुरवा स्थित विधायक गोरखनाथ के घर से बाइक से वापस लौटते समय उनके ममेरे भाई पूराकलंदर निवासी करन रावत से मारपीट की वारदात को अंजाम दिया था। आरोपी बनाए गए जनौरा निवासी विकास के अधिवक्ता मार्तंड प्रताप सिंह ने बताया कि स्टे के बावजूद हो रही कार्रवाई पर वह हाईकोर्ट में याचिका दायर करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Faizabad: The attack on the MLA relative case raid in resident of block pramukh in Lucknow