अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मच्छरों के प्रकोप से बढ़ने लगे उल्टी, दस्त, बुखार के मरीज

-फैजुल्लागंज में गंदगी का अम्बार, मच्छरों के बढ़ने से बढ़ने लगी मरीजों की संख्या

-प्रशासन नहीं चेत रहा, पहले भी इस इलाके में फैल चुका है संक्रामक रोग

सरकार के बड़े-बड़े दावे और स्वच्छता अभियान के चलने के बाद भी फैजुल्लागंज इलाके में बीमारियों का बढ़ना शुरू हो गया है। हालत अभी से इतनी बदतर हो चुकी है कि अभी ध्यान नहीं दिया गया तो आने वाले समय में स्थितियां संभालने लायक नहीं बचेंगी। बीमारियों ने यहां दस्तक देना शुरू कर दिया है।

सुर्खियों में हमेशा बने रहने वाले फैजुल्लागंज में एक बार फिर से बुखार, उल्टी और दस्त के मामले आना शुरू हो गये हैं। गंदगी के कारण इस इलाके में पहले भी कई बार संक्रामक रोग फैल चुका है। जिम्मेदारों की ओर से समय रहते यहां साफ-सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित नहीं कराई जा सकी है जिसकारण फिर से यहां बीमारियों ने दस्तक देना शुरू कर दिया है। फैजुल्लागंज में बुखार, उल्टी, दस्त के मामले सामने आये हैं। श्याम बिहार मे आयुष गौतम (8), रवि यादव (12 ), बुखार, उल्टी दस्त से पीड़ित । मच्छरो का यहां जबरदस्त प्रकोप है। संतकबीर नगर में सरस्वती देवी, प्रमोद शुक्ल, अमित शुक्ल, प्रियांशी तिवारी, मलेरिया बुखार से पीड़ित हैं। अन्य कई लोगों को चेचक भी है। फैजुल्लागंज के शिव विहार, मुस्लिम नगर आदि इलाके भी गंदगी की चपेट में हैं। गोमती में पानी बढ़ते ही इन इलाकों में ताल बन जाता है। इलाकों में नगर निगम की ओर से सफाई व्यवस्था भी चौपट रहती है जिसकारण यहां बीमारी फैलने का डर लोगों में फैला रहता है। स्थानीय लोग कई बार यहां की अव्यवस्था को लेकर आंदोलन कर चुके हैं लेकिन उसके बाद भी प्रशासन यहां की स्थिति पर कोई ध्यान नहीं दे रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:faijullaganj