Employees organizations of the state will participate in the protest rally to be held in Delhi on 14 - दिल्ली में 14 को होने वाली विरोध रैली में प्रतिभाग करेंगे राज्य के कर्मचारी संगठन DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली में 14 को होने वाली विरोध रैली में प्रतिभाग करेंगे राज्य के कर्मचारी संगठन

default image

सरकारी कर्मचारी राष्ट्रीय परिसंघ के आह्वान पर 14 अक्टूबर को पूरे देश के सभी हिस्सों से कर्मचारी नेता जुटेंगे। जिसको लेकर प्रदेश के तमाम कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारियों ने बैठक की। बैठक में उप्र राज्य के राज्य कर्मचारी वर्ग के संयोजक अरुण पांडे, केंद्रीय कर्मचारियों के संयोजक अनिल, उप्र सचिवालय संघ के पूर्व अध्यक्ष हरिशरण मिश्र और एलडीए कर्मचारी संघ के नेता महेंद्र दीक्षित की उपस्थिति में सरकार की कर्मचारी विरोधी नीतियों के खिलाफ आवाज बुलंद करने के लिये दिल्ली में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी के समाधि स्थल तक रैली में प्रतिभाग करने का निर्णय हुआ।

राष्ट्रीय परिसंघ के राज्य कर्मचारी संयोजक अरुण पांडेय ने बताया कि पूरे देश के कर्मचारी वर्ग में सरकार के निजीकरण की कार्यवाही,चतुर्थ श्रेणी पर भर्ती की रोक और संविदा और आउटसोर्सिंग की अंधाधुंध नीति के कारण देश को बहुत नुकसान हो रहा है। गैर जिम्मेदार और असमर्पित गैर सरकारी संस्था से ठेके के कार्मिक, सरकारी परीक्षा प्रणाली से चयनित कार्मिकों का स्थान नहीं ले सकते। पुरानी पेंशन बहाली पर सरकार का उदासीन रवैया,कैडर रिव्यु और छठवें वेतन आयोग की विसंगतियों को दूर करने में सरकार की रुचि नहीं है। लाखों पदों पर भर्ती नहीं होने से कर्मचारी काम के बोझ से दबे हैं और बेरोजगार युवा रोजगार के अवसर से वंचित है। तमाम भत्ते बन्द किये जा रहे हैं। जिस पैर पर सरकार खड़ी है उसी को कमजोर कर रही है। जिसके विरोध में पूरे देश से लाखों कर्मचारी 14 अक्टूबर को दिल्ली में जमा हो रहे हैं। तैयारी बैठक में लघु सिंचाई, पंचायत राज महापरिषद, ग्राम विकास अधिकारी संघ के अध्यक्ष रजनीकांत त्रिवेदी,राजेश साहू, विनोदिनी मिश्र,राजेश पांडेय आदि पदाधिकारियों ने बड़ी संख्या में उप्र से कर्मचारियों से प्रतिभाग का आहवान किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Employees organizations of the state will participate in the protest rally to be held in Delhi on 14