अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

2018-19 बजट के लिए मांगा गया आय-व्यय अनुमान

वित्त विभाग ने वर्ष 2018-19 के लिए बजट का खाका खींचना शुरू कर दिया है। प्रमुख सचिव वित्त संजीव मित्तल ने सभी अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, सचिव तथा विभागाध्यक्षों से विभागीय बजट अनुमान 30 नवंबर तक देने को कहा है। यदि विभाग की कोई नई मांग है तो यह प्रस्ताव भी 30 नवंबर तक ही देना होगा। इसके लिए वित्त विभाग द्वारा जारी पत्र में कहा गया है कि बजट अनुमान तैयार करने में सरकार की प्राथमिकताओं और प्रतिबद्धताओं को ध्यान में रखा जाए। सक्षम स्तर से अनुमोदन लेने के बाद ही बजट प्रस्ताव तैयार किया जाए। निर्देश हैं कि अनुमान पूरा व ठीक होना चाहिए। अनुमान में एकमुश्त धन की व्यवस्था न की जाए। ऊर्जा, पीडब्ल्यूडी, सिंचाई, जलापूर्ति, शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि को विभिन्न श्रोतों से भी फंड मिलता है। इन विभागों से कहा गया कि नियोजन विभाग के परामर्श से कार्ययोजना तैयार कर बजट अनुमान तैयार करें और तय तिथि तक प्रस्तुत करें। राजस्व प्राप्ति से संबंधित अनुमान के साथ ही प्रशासकीय विभाग व्ययक का अनुमान 30 नवंर तक वित्त विभाग को देंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Earnings and esoenditure estimates sought for budget 2018-19