class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी में 16 और वस्तुओं पर ई-वे बिल 16 दिसंबर से

प्रमुख संवाददाता- राज्य मुख्यालय

प्रदेश में गुड्स सर्विस टैक्स (जीएसटी) के अधीन 16 और वस्तुओं पर ई-वे-बिल की व्यवस्था लागू कर दी गई है। यह व्यवस्था 16 दिसंबर से प्रभावी होगी। इसके बाद 16 नए वस्तुओं को लाने-ले-जाने के लिए पर ई-वे-बिल व्यापारियों को रखना अनिवार्य होगा।

अपर मुख्य सचिव वाणिज्य कर राजेंद्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में गुरुवार को हुई वाणिज्य कर विभाग की समीक्षा बैठक में उन्होंने अधिकारियों को इसकी जानकारी दी। बैठक में वाणिज्य कर आयुक्त मुकेश मेश्राम ने बताया कि वाणिज्य कर एकत्र करने का लक्ष्य 5815 करोड़ रुपये निर्धारित था, इसमें 6005 करोड़ रुपये की वसूली हुई। रिटर्न फाइल में मामले में उप्र देश में चौथे स्थान पर है।

उन्होंने बताया कि सीमावर्ती राज्यों दिल्ली, राजस्थान, बिहार, मध्य प्रदेश तथा उत्तराखंड की तुलना में उप्र में रिटर्न फाइल सबसे अधिक है। उन्होंने बताया कि ई-वे-बिल पहले केवल चार वस्तुओं पर लाने-जाने के लिए लागू था। अब 20 वस्तुओं को लाने-ले-जाने पर इसे व्यापारियों को रखना होगा। नवंबर में सचल दल इकाईयों ने 1402 वाहनों की जांच करके 41 करोड़ रुपये का माल पकड़ा गया और 10 करोड़ रुपये का जुर्माना वसूला।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:e way bill E-pay bill from December 16
अब नहीं अटकेंगे पॉलीटेक्निक चौराहे पर वाहनब्यूटीशियन ने फांसी लगाकर की खुदकुशी