DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसान मित्रों ने सीएम से मांगी दो जून की रोटी

किसान मित्र योजना को फिर से शुरू करने की मांग को लेकर बेरोजगार किसान मित्रों ने शुक्रवार को लक्ष्मण मेला मैदान में धरना दिया। इस दौरान उन्होंने हाथ में रोटी लेकर सीएम से दो जून की रोटी उपलब्ध कराने की अपील भी की। उनका कहना है कि यदि जल्द मांग पूरी नहीं हुई तो 11 जुलाई से अनिश्चितकालीन धरना देंगे। यह सभी किसान मित्र वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर तले एकजुट हुए थे। एसोसिएशन के अध्यक्ष सरोज कुमार दीक्षित ने कहा कि चुनाव पूर्व भाजपा नेताओं ने किसान मित्र योजना के पुन: संचालन का वादा किया था। सरकार बने तीन माह हो चुके हैं। लिहाजा पिछले आठ साल से बेरोजगारी का दंश झेल रहे प्रदेश के लगभग 52 हजार किसान मित्रों की सेवा बहाल करने का अब वक्त आ गया है। उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत में कृषि विभाग द्वारा वर्ष 2007 में किसान मित्रों का चयन किया गया था। उनका मुख्य कार्य कृषि विभाग की महत्वपूर्ण योजनाओं एवं तकनीकि को गांव के किसानों तक पहुंचाना था। यह कार्य वह केवल 1200 मानदेय पर कर रहे थे। वहीं धरने में शामिल प्रमोद कुमार यादव ने बताया कि तत्कालीन बसपा सरकार ने वर्ष 2010 में इस योजना को बंद कर दिया जिससे हजारों किसान मित्र बेरोजगार हो गए। उन्होंने तत्कालीन सपा सरकार पर भी किसान मित्रों की समस्याओं की अनदेखी का आरोप लगाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:dharna