DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंकों की सुरक्षा के मानकों का फिर से परीक्षण करेगी पुलिस

डीजीपी ओपी सिंह के साथ गुरुवार को हुई राष्ट्रीयकृत बैंकों के अधिकारियों की बैठक में बैंक शाखाओं की सुरक्षा के मानकों का पुनरीक्षण किए जाने का फैसला किया गया है। डीजीपी ने कहा कि जिन शाखाओं में लॉकर सुविधा उपलब्ध है उनके सुरक्षा मानकों का विशेष पुनर्मूल्यांकन किया जाएगा।

ऐसा पहली बार हुआ है कि डीजीपी मुख्यालय में बैंकों के बड़े अधिकारियों की बैठक कर सुरक्षा के मुद्दे पर मंथन हुआ। बैठक में सभी राष्ट्रीयकृत बैंकों के राज्य प्रमुखों के अलावा निजी बैंकों के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे। एडीजी कानून-व्यवस्था आनंद कुमार ने बैठक के उद्देश्यों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पुलिस विभाग बैंकों की सुरक्षा व्यवस्था में आवश्यक सुधार किए जाने पर विचार-विमर्श के लिए यह बैठक बुलाई गई है। इसके बाद एसपी कानून-व्यवस्था ने बैंकों की सुरक्षा के संबंध में आरबीआई से जारी गाइड लाइंस एवं उनके अनुपालन के संबंध में प्रस्तुतीकरण दिया। इसमें बताया गया कि बैंकों की सुरक्षा के लिए तकनीक का अधिकतम उपयोग किस प्रकार किया जाए। उन्होंने हाल ही में कानपुर व इलाहाबाद में नकबजनी एवं लॉकर काटने की घटनाओं के संबंध में विस्तृत रूप से प्रस्तुतीकरण दिया, जिससे उनकी पुनरावृत्ति रोकी जा सके।

बैठक में बैंक शाखाओं की सुरक्षा के मानकों का पुनरीक्षण करने, जिन शाखाओं में लॉकर सुविधा उपलब्ध है उनके सुरक्षा मानकों का विशेष पुनर्मूल्यांकन करने, बैंकों/एटीएम में सीसीटीवी कैमरों की उपलब्धता एवं डीवीआर मानीटरिंग की व्यवस्था करने, नकदी भेजते समय ट्रेजरी रल्स के अनुसार पुलिस एस्कार्ट की उपलब्धता कराने, करेंसी चेस्ट के सुरक्षा के मानक की समीक्षा करने, दूरदराज के क्षेत्र में बैंकों व एटीएम की सुरक्षा के लिए कार्ययोजना बनाने, बैंकों व पुलिस के बीच संवाद बनाए रखने तथा बैंकों द्वारा ली जाने वाली निजी सुरक्षा के मानकों का भी ध्यान रखे जाने का निर्णय लिया गया। बैंक अधिकारियों ने क्षेत्र में महसूस की जा रही समस्याओं से डीजीपी को अवगत कराया और कई महत्वपूर्ण सुझाव भी दिए। डीजीपी ने कहा कि वह इस संबंध में जल्द ही सर्कुलर जारी करेंगे

डीजीपी ने लाकर चोरी पर कराई स्टडी

डीजीपी ओपी सिंह ने बैठक में बैंक लाकरों से चोरी अथवा लूट की घटनाओं पर एक विशेष प्रस्तुतिकरण करवाया। उन्होंने हाल के दिनों में कानपुर व इलाहाबाद में हुई बैंक लाकर काटने की घटनाओं पर कानपुर के आईजी रेंज आलोक सिंह से स्टडी करवाया। इसमें सुरक्षा में कहां बैंक से चूक हुई? कैसे भविष्य में ऐसी घटनाएं रोकी जाएं? क्या सुरक्षा प्रबंध किए जाएं? इन पर ध्यान केंद्रित कर उठाए जाने वाले कदमों की जानकारी दी गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:DGP meets Bank officers