DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईडीएफसी बैंक ग्राहकों को देगा बैंकिंग का अनूठा अनुभव

बिना चार्ज के असीमित एटीएम से निकासी, बचत खातों में बैलेंस सीमा से नीचे जाने पर कोई फीस या पैनाल्टी नहीं। एक कॉल पर चौबीस घंटे बैंकिंग सेवा उपलब्ध। यह कुछ ऐसी बातें हैं जो प्रदेश में अपने पैर जमा रही आईडीएफसी बैंक की हैं। लखनऊ में भी इसकी एक शाखा की शुरुआत हो चुकी है।

गुरुवार को आईडीएफसी बैंक के हेड पर्सनल बैंकिंग अमित कुमार ने बताया कि बैंक की ऑनलाइन सेवाएं पहले ही मौजूद थीं। लेकिन अब लखनऊ और कानपुर में बैंक की शाखा खुलने से ग्राहक सिर्फ चार मिनट में आधार से जुड़ा बचत खाता खोल सकेंगे। यहां बचत और चालू खाते से लेकर रिटेल लोन और वेल्थ मैनेजमेंट सेवाओं तक सभी सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी। उन्होंने बताया कि बैंक ने दो वर्षों में आईडीएफसी बैंक ने प्रदेश में 290 इंटरऑरेबल आधार सक्षम माइक्रो एटीएम और 106 आधार पे मर्चेंट प्वाइंट्स सफलतापूर्वक स्थापित किए हैं। उन्होंने बताया कि हमारी बैंक का सबसे ज्यादा फोकस गांव-देहात हैं जहां असिस्टेड डिजिटल बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराई हैं। चालू खातों की टैब ओपनिंग हो रही है। एक पूरी तरह से लोडेड मोबाइल एप है।

इंटीग्रेटेड टेक्नोलॉजी आक्टिक्चर के जरिए तुरंत ऋण स्वीकृति की जा रही है और एक कॉल पर चौबीस घंटे बैकिंग सुविधा उपलब्ध है। आईडीएफसी बैंक के 24 लाख सक्रिय ग्राहक हैं और 17, 037 प्वाइंट ऑफ प्रेजेंस पर इसकी सेवाएं उपलब्ध हैं। लखनऊ में यह बैंक अशोक मार्ग स्थित हिन्दुस्तान टाइम्स हाउस पर स्थित है। उन्होंने बताया कि बैंक के ग्राहकों को किसी भी एटीएम से असीमित नि:शुल्क नकदी निकाली जा सकती है। असीमित नि:शुल्क फंड ट्रांसफर और बचत खाते में औसत न्यूनतम बैलेंस नहीं रहने पर भी कोई फीस चार्ज नहीं लिया जाता। उन्होंने बताया कि हम उन कुछ बैंकों में से हैं जो मोबाइल बैंकिंग पर सभी तरह की लोन सर्विस उपलब्ध कराते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:DFC Bank will give customers unique experience of banking