DA Image
7 अगस्त, 2020|6:03|IST

अगली स्टोरी

पूर्ति निरीक्षक का निलंबन एक सप्ताह के अन्दर वापस लेने की मांग

default image

बिकरू में अनाज वितरण में गड़बड़ी का मामला, विकास दुबे के खिलाफ एफआईआर करने वाला पूर्ति निरीक्षक हुआ है निलंबितविशेष संवाददाता राज्य मुख्यालययूपी फूड एण्ड सिविल सप्लाईज इंस्पेक्टर्स-आफिसर्स एसोसिएशन ने खाद्य आयुक्त से बिकरू में सरकारी राशन वितरण में अनियमितता के मामले में पूर्ति निरीक्षक प्रशान्त कुमार सिंह के निलंबन को एक सप्ताह के अन्दर वापस लेने की मांग की है। एसोसिएशन ने निलंबन वापस न होने पर आन्दोलन करने और न्यायालय जाने की चेतावनी दी है।एसोसिएशन के महामंत्री टी.एन. चौरसिया ने खाद्य आयुक्त को लिखे पत्र में कहा है कि संसाधन विहीनता,असुरक्षा व कोविड महामारी के बीच पूर्ति निरीक्षक के जान की बाजी लगा कर काम करने के बावजूद एकतरफा निलंबन से आपूर्ति शाखा के लोगों का मनोबल गिरा है। लोगों में असुरक्षा की भावना व्याप्त हो गई है। उन्होंने कहा है कि संबंधित पूर्ति निरीक्षक को मई में ही बिल्हौर से हटा दिया गया था। राशन वितरण ई पॉस मशीन से नोडल अधिकारियों और सर्तकता समितियों की निगरानी में किया जाता है। फिर एकल कार्रवाई क्यों? संघ के संज्ञान में आया है कि बिकरू गांव के लोगों ने जांच टीम को मौखिक रूप से बताया कि राशन विक्रेता के सहयोगी विकास दुबे के प्रभाव में काम करते थे। महामंत्री ने कहा है कि विकास दुबे द्वारा जिस पूर्ति निरीक्षक को मारपीट और जान से मारने की धमकी दी गई, उसी के खिलाफ सारे तथ्यों को नजरअन्दाज कर एकतरफा कार्रवाई के खिलाफ आपूर्ति शाखा में भयंकर रोष है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Demand for suspension of supply inspector within one week