class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नए पेराई सत्र में अब तक किसानों को 690 करोड़ रूपए का हुआ भुगतान

विशेष संवाददाता-राज्य मुख्यालय प्रदेश में शुरू हुए नए पेराई सत्र में किसानों को उनके गन्ना आपूर्ति के चौदह दिनों बाद चीनी मिलों ने भुगतान शुरू कर दिया है। गन्ना आयुक्त कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार अब तक 690.91 करोड़ रुपये का गुन्ना मूल्य किसानों को भुगतान किया जा चुका है। पिछले पेराई सत्र में इसी अवधि तक किसानों को कोई भी गन्ना मूल्य भुगतान नहीं किया गया है। गन्ना किसानों की गन्ना उपज चीनी मिलों को सुचारू रूप से आपूर्ति कराने के मद्देनज़र किसानों को पक्का कलेण्डर वितरित किए जाने, सभी आवंटित क्रय केन्द्रों की स्थापना सुनिश्चत कर नियमित संचालन कराने के भी समुचित उपाय किए गए हैं। किसानों को उनके सट्टे के अनुसार निर्धारित पर्चियां समय से उपलब्ध कराने और घटतौली जैसी अनियमितताओं की प्रभावी रोकथाम के लिए परिक्षेत्रीय जिला स्तरीय जनपदीय अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। इस क्रम में मुख्यालय के 12 वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा सहारनपुर, मेरठ, मुरादाबाद, बरेली व लखनऊ परिक्षेत्र के 23 जिलों में गन्ना क्रय केन्द्र, मिल गेट का भी औचक निरीक्षण किया गया है। गन्ना व चीनी आयुक्त संजय आर भूसरेड्डी ने बताया कि गन्ना मंत्री सुरेश राणा के मार्गदर्शन में चीनी मिलों का जल्द संचालन कराने के लिए ठोस कार्ययोजना बनाई गई। जिसके फलस्वरूप प्रदेश में पेराई सत्र 2017 में संचालन के लिए प्रस्तावित कुल 119 चीनी मिलों में से अब तक 77 चीनी मिलों का पेराई सत्र प्रारम्भ करा दिया गया है, जबकि पिछले पेराई सत्र में अब तक मात्र 55 चीनी मिलें ही संचालित हो पाई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Crushing
एलडीए में एक महीने में दूसरी बार लगी आगएक दिसम्बर से शकुन्तला मिश्रा विवि की विषम सेमेस्टर परीक्षाएं