अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सम्पत्ति लालच में बेटो ने किया बुजुर्ग मां बाप पर जानलेवा हमला

पड़ोसियों की मदद से बची दम्पति की जान, डर से रिश्तेदार के घर ली शरण

पुलिस ने रिपोर्ट लिखने के बजाए मामले में सुलह करने का किया प्रयास

निगोहां। हिन्दुस्तान संवाद

निगोहां के रांती गांव में जमीन के टुकड़े पर कब्जा करने के लिए बेटों ने माता-पिता को लाठी से बेरहमी से पीटा। मारपीट में दम्पति को गम्भीर चोट लगी। उनके शोर मचाने पर पड़ोसी मदद के लिए दौड़ पड़े। लोगों को जुटता देख आरोपी बेटों ने पिता पर फायरिंग कर दी। गोली चलने की आवाज सुन पहुंचे पड़ोसियों ने दम्पति का बचाव करते हुए हमलावरों को खदेड़ दिया। इस पर दबंगों ने ग्रामीणों पर भी असलहा तान दिया। पर, ग्रामीण पीछे नहीं हटे। अलबत्ता दबंगों को भागना पड़ा। वहीं, शिकायत दर्ज कराने निगोहां थाने पहुंचे दम्पति को पुलिस ने वापस लौटा दिया। बेटों से खौफजदा दम्पति गांव छोड़ कर रिश्तेदार के घर चले गए।

मां को भी नहीं बख्शा

रांती गांव निवासी मंशाराम बेटे राम नारायण के साथ रहते हैं। वहीं, राज नारायण, राम मोहन व लक्ष्मी नारायण गांव में ही दूसरे मकान में रहते हैं। मंशाराम के मुताबिक शनिवार को वह पत्नी संग घर पर मौजूद थे। रात 8 बजे करीब राज नारायण, लक्ष्मी व राम मोहन घर के बाहर आ धमके। आवाज देकर पिता को बाहर बुलाया। मंशाराम के घर से निकलते ही आरोपी हमलावर हो गए। जमीन का एक टुकड़ा अपने नाम पर करने का दबाव बनाने लगे। इनकार करने पर राज, राम मोहन व लक्ष्मी नारायाण ने पिता को लाठी से पिटना शुरू कर दिया। मंशाराम के चिल्लाने की आवाज सुन उनकी पत्नी बाहर भागी। पति के लिए वह उनकी ढाल बन गई। इस पर बेटों ने मां को भी लाठियों से बेरहमी से पीट दिया। बुजुर्ग दम्पति को गम्भीर चोट लगी। उनके आवाज लगाने पर पड़ोसी मदद के लिए पहुंचे। मंशाराम के मुताबिक बेटों ने उन पर फायरिंग की थी।

कार्रवाई नहीं सुलह करायेंगे

बेटों की पिटाई से चोटिल हुए मंशाराम पत्नी संग शनिवार रात ही निगोहां थाने पहुंचे। पुलिस कर्मियों के सामने आपबीती बताते हुए तहरीर देकर कार्रवाई की गुहार लगाई। आरोप है कि दम्पति के कई बार कहने के बाद भी थाने से कोई जांच करने के लिए घटनास्थल पर नहीं पहुंचा। वहीं, एसओ निगोहां ने बताया कि पिता-पुत्रों के बीच सम्पत्ति बंटवारे को लेकर एक समझौता हुआ था। उन्होंने बताया कि दोनों पक्षों को थाने बुला कर पूछताछ की गई है। एसओ ने फायरिंग किए जाने की बात को खारिज करते हुए कहा कि गांव में इस बात की तस्दीक किसी ने नहीं की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:crime