अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बारिश में कच्ची कोठरी गिरने से मलबे में दबकर तीन घायल

मोहनलालगंज। हिन्दुस्तान संवाद

सुल्सामऊ के ललूमर में शनिवार रात रामावती की कच्ची कोठरी ढह गई। मलबे में उनके दो बेटे और बेटी दब गए। शोर-शराबा सुनकर ग्रामीण दौड़ पड़े। काफी मशक्कत के बाद मलबे को हटाकर तीनों को बाहर निकाला गया। एम्बुलेंस की मदद से उन्हें सीएचसी ले जाया गया लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया। हादसे की जानकारी मिलते ही एसडीएम मोहनलालगंज अस्पताल पहुंचे। उन्होंने घायलों का हाल लेने के बाद आर्थिक मदद की। इसके साथ ही विधायक और ग्राम प्रधान भी घायलों से मिलने पहुंचे।

ललूमर निवासी बुजुर्ग रामावती के पति की कुछ अरसे पहले मौत हो गई। वह अपने बेटे अंकित, मोहित व बेटी संगीता के साथ रहती है। रात में बुजुर्ग दूसरी कोठरी में व बच्चे दूसरी अलग कोठरी में सो रहे थे। रात करीब एक बजे बारिश के चलते कोठरी अचानक भरभरा कर गिर गई। जिसके मलबे में तीनों बच्चे दब गए। ग्रामीणों ने आनन-फानन मलबे को हटाकर तीनों को बाहर निकाला। मौके पर पहुंची एम्बुलेंस से घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया।

हाल-चाल लेने ट्रॉमा पहुंचे एसडीएम

हादसे की खबर मिलते ही राजस्व टीम मौके पर भेजने के साथ एसडीएम संतोष कुमार सिंह ट्रॉमा सेंटर पहुंचे। पीड़ित परिवार को उपचार के लिए 20 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी। इसके साथ ही क्षेत्रीय विधायक अम्ब्रीश पुष्कर व ग्राम प्रधान सुमन यादव उनके पति राकेश यादव ने भी घायलों का हालचाल लिया और आर्थिक मदद की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:crime