DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंक अधिकारी बन खाते से 73 हजार रुपये उड़ाए

महानगर में रहने वाले एक व्यक्ति से जालसाज ने बैंक अधिकारी बनकर एटीएम कार्ड की डिटेल हासिल की। फिर उनके खाते से 25 हजार रुपये निकाल लिए। इसके अलावा ठगों ने एक डाक्टर के खाते से 48 हजार रुपये निकाल लिये।

महानगर के विज्ञानपुरी में रहने वाले रमेश चन्द्र श्रीवास्तव ने बताया कि उनका महानगर स्थित बैंक आफ इंडिया में बचत खाता है। कुछ दिन पहले उनके पास एक फोन आया। फोनकर्ता ने खुद को बैंक के मुम्बई स्थित मुख्यालय का कर्मचारी बताया और जानकारी दी कि उनका खाता काफी पुराना हो चुका है, इसलिए उसका नवीनीकरण होना है। रमेश ने फोनकर्ता से इस सम्बंध में कोई बातचीत करने से इनकार कर दिया। इस पर फोनकर्ता ने बताया कि उसे कोई ओटीपी नम्बर नहीं चाहिए। अगर वह जल्दी नहीं करेंगे तो उनका खाता बंद कर दिया जायेगा। फोनकर्ता की बातों में आकर रमेश ने उसे अपने एटीएम कार्ड के पीछे लिखा नंबर बता दिया। इसके बाद जालसाज ने उनके खाते से 25 हजार रुपये निकाल लिये। रुपये निकलने का पता चलने पर रमेश ने जानकारी की तो मालूम हुआ कि यह रुपये एयरटेल मनी के खाते में ट्रांसफर किये गये हैं। पीड़ित ने महानगर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करायी है। वहीं महानगर के पेपर मिल कालोनी में रहने वाले डॉक्टर विजय कुमार का एसबीआई में बचत खाता है। कुछ दिन पहले उनके पास एक फोन आया। फोनकर्ता ने उन्हें एटीएम कार्ड ब्लाक होने की बात बतायी और खुद को बैंक अधिकारी बताया। एटीएम कार्ड दोबारा चालू करने के नाम पर फोनकर्ता ने उनसे एटीएम कार्ड की सारी जानकारी हासिल कर ली। इसके बाद जालसाजों ने 9 बार में उनके खाते से 48,498 रुपये निकाल लिये। बैंक से रुपये कटने का मैसेज आने पर पीड़ित को ठगी का पता चला। उन्होंने महानगर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:crime