DA Image
8 अगस्त, 2020|6:16|IST

अगली स्टोरी

भर्ती के अभाव में कोरोना संक्रमित की मौत

default image

लखनऊ। वरिष्ठ संवाददाताकोरोना मरीजों को इलाज के लिए भटकना पड़ रहा है। एम्बुलेंस कोरोना संक्रमित युवक को लेकर एक से दूसरे अस्पताल भटकती रही। परिवारीजनों का आरोप है कि समय पर इलाज न मिलने से युवक की मौत हो गई।लखीमपुर मूल निवासी अंकित (26) चिनहट में रहता था। भाई तरुण के मुताबिक गुजरे तीन दिन से अंकित को बुखार था। प्राइवेट पैथोलॉजी में जांच कराई। बुधवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आई। सीएमओ कंट्रोल रूप को सूचना दी। ताकि मरीज को भर्ती कराया जा सके। रात करीब 10 बजे एम्बुलेंस घर पहुंची। मरीज को कुर्सी रोड स्थित प्राइवेट मेडिकल कॉलेज में शिफ्ट करने का आदेश हुआ। जब एम्बुलेंस कर्मी मरीज को लेकर कॉलेज पहुंचे। यहां मरीज की भर्ती नहीं हुई। एम्बुलेंस कर्मी ने सीएमओ कंट्रोल को सूचना दी। उसके बाद दुबग्गा के प्राइवेट कॉलेज भेजा गया। यहां भी एम्बुलेंस में मरीज तड़पता रहा। आईसीयू में बेड खाली नहीं मिला। अब उसे तीसरी बार कानपुर रोड के निजी मेडिकल कॉलेज में भेजा गया। सुबह चार बजे युवक की भर्ती हुई। इलाज के अभाव में बिगड़ी हालतसमय पर इलाज न मिलने से मरीज की हालत गंभीर हो गई। प्राइवेट कॉलेज ने मरीज को केजीएमयू ले जाने को कहा। इसके लिए सीएमओ कंट्रोल रूम से संपर्क किया गया। दोपहर करीब तीन बजे मरीज को केजीएमयू रेफर किया गया। तरुण ने बताया कि केजीएमयू के कोरोना वार्ड के सामने पांच बजे एंबुलेंस पहुंच गई। आरोप लगाया कि मरीज को वार्ड में शिफ्ट करने में दो घंटे गुजर गए। एंबुलेंस में ही अंकित ने दम तोड़ दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Corona infected died due to lack of recruitment