DA Image
8 जुलाई, 2020|10:03|IST

अगली स्टोरी

31 जुलाई तक चलेगा संचारी रोग नियंत्रण अभियान : योगी

default image

---मुख्यमंत्री ने ‘विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के द्वितीय चरण का शुभारम्भ किया---वर्तमान सरकार संक्रामक बीमारियों के नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए प्रतिबद्ध: मुख्यमंत्री--जनजागरण और जनसहभागिता के माध्यम से जनस्वास्थ्य की गंभीर चुनौतियों पर विजय प्राप्त की जा सकती--संचारी रोगों में उपचार से अधिक बचाव का महत्व--प्रधानमंत्री ने ‘स्वच्छ भारत मिशन का जो अभियान चलाया, वह संचारी रोगों के खिलाफ भी एक अभियान--हमें कोरोना से लड़ना है और संचारी रोगों पर भी प्रभावी अंकुश लगाना है विशेष संवाददाता - राज्य मुख्यालयमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वर्तमान सरकार संक्रामक बीमारियों के नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए प्रतिबद्ध है। आज पूरा विश्व वैश्विक महामारी कोविड-19 से जूझ रहा है। ऐसे में हमें कोरोना से भी लड़ना है और संचारी रोगों पर भी प्रभावी अंकुश लगाना है। लोगों को गुणवत्तापरक चिकित्सीय सुविधाएं देने के लिए प्रदेश सरकार कार्य योजना बनाकर काम कर रही है। जनजागरण और जनसहभागिता के माध्यम से जनस्वास्थ्य की गंभीर चुनौतियों पर विजय प्राप्त की जा सकती है। उन्होंने कहा कि संचारी रोगों में उपचार से अधिक बचाव का महत्व है।मुख्यमंत्री ने यह विचार बुधवार को अपने सरकारी आवास पर ‘विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के द्वितीय चरण के शुभारम्भ अवसर पर व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि जल जनित व विषाणु जनित रोगों पर नियंत्रण के लिए आवश्यक है कि साफ-सफाई की जाए व स्वच्छता को अपनाया जाए। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वच्छ भारत मिशन का जो अभियान चलाया, वह संचारी रोगों के खिलाफ भी एक अभियान है। स्वच्छ भारत मिशन के माध्यम से ग्रामीण व शहरी इलाकों में अभियान चलाकर शौचालय बनवाए गए, जिससे खुले में शौच से मुक्ति मिली है।मुख्यमंत्री ने विशेष सफाई वाहन दल तथा एलईडी वैन को झंडी दिखाकर रवाना किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधान परिषद सदस्य स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि वर्तमान सरकार समाज के अन्तिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने का कार्य कर रही है।मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान सभी 75 जिलों में 1 से 31 जुलाई तक चलाया जाएगा। प्रदेश का कोई न कोई जनपद किसी न किसी संचारी रोग की चपेट में रहता है। 38 जनपद एक्यूट इन्सेफेलाइटिस (एईएस) व जापानी इन्सेफेलाइटिस (जेई) से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। इस अभियान में स्वास्थ्य विभाग, नोडल विभाग की भूमिका निभाते हुए अन्य विभागों के साथ मिलकर मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, फाइलेरिया, काला-अजार और जापानी इन्सेफेलाइटिस जैसे रोगों की रोकथाम के लिए सभी जरूरी उपाय करेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि संचारी रोग नियंत्रण के लिए स्वास्थ्य विभाग ने सर्विलान्स सिस्टम के माध्यम से सफलता प्राप्त की है। जिस बीमारी से पूर्वी उत्तर प्रदेश में पिछले 40 वर्षों में हजारों बच्चों की मृत्यु हुई, वर्तमान सरकार के प्रयासों से उस बीमारी को 60 प्रतिशत और मौत के आंकड़ों को 90 प्रतिशत कम करने में सफलता प्राप्त हुई है।मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना की जंग में बेहतर लड़ाई लड़ने के साथ पूरी दुनिया व देश में उत्तर प्रदेश जैसे बड़ी आबादी वाले राज्य के लिए बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाएं देने का प्रयास किया है। राज्य सरकार ने केन्द्र सरकार के सहयोग से प्रदेश की 24 करोड़ जनता को कोरोना काल खण्ड में भी पूरी तरह सुरक्षित महसूस कराया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Communicable Disease Control Campaign to run till 31 July Yogi