DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वाणिज्य कर विभाग में डिप्टी कमिश्नर अफसरों के लटके तबादले

प्रमुख संवाददाता- राज्य मुख्यालय

वाणिज्य कर विभाग में डिप्टी कमिश्नर स्तर के अफसरों के तबादले लटक गए हैं। इसके लिए उन्हें अपर मुख्य सचिव आलोक सिन्हा के वापस आने का इंतजार करना होगा। हालांकि, आयुक्त वाणिज्य कर कार्यालय से तबादले की सूची भेजी गई थी, लेकिन कुछ नामों को और शामिल किए जाने की वजह से इसे वापस कर दिया गया।

वाणिज्य कर विभाग में इस बार करीब 60 फीसदी तबादले की तैयारी की थी, लेकिन लेट-लतीफी के चलते अपर आयुक्त 28 और संयुक्त आयुक्त 41 अफसरों के ही तबादले हो सके। शासनादेश के आधार पर इस स्तर के और अधिकारियों का तबादला होना चाहिए था, लेकिन डिप्टी कमिश्नर की सूची जारी होने पर पेंच फंस गया।

सूत्रों का कहना है कि आयुक्त कार्यालय से डिप्टी कमिश्नर के तबादले की जो सूची भेजी गई उसमें कई ऐसे अफसरों को छोड़ दिया गया, जो सालों से एक ही स्थान पर जमे हुए थे। शासन स्तर से इसमें संशोधन का निर्देश देते हुए इस सूची को वापस कर दिया गया। आयुक्त कार्यालय डिप्टी कमिश्नर की संशोधित सूची शासन को भेजता इससे पहले अपर मुख्य सचिव वाणिज्य कर ट्रेनिंग पर चले गए। इसके चलते तबादले की सूची लटकी हुई है।

सूत्रों का कहना है कि तय समय से तबादला न होने की वजह से अधिकारियों में असमंजस की स्थिति है। कुछ अधिकारियों का तो यह भी कहना है कि तबादले को लेकर स्थिति साफ होनी चाहिए, जिससे वह एक स्थान पर मन लगाकर काम कर सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Commerce tax department Transit hangings