DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीएम बोलना बंद कर देंगे तो हम जीतेंगे कैसे: अखिलेश

प्रमुख संवाददाता- राज्य मुख्यालय

सपा मुखिया अखिलेश यादव ने जहां भाजपा पर जमकर हमला बोला वहीं उनके नेताओं के बड़बोलेपन की आलोचना भी की है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अगर बोलना बंद कर दिया तो हम जीतेंगे कैसे। चुनाव आयोग से अपील करता हूं कि जो चैनल सीएम को 24 घंटे दिखा रहे हैं उन पर भी कार्रवाई करें। तंज कसते हुए कहा कि सबसे ज्यादा ध्यान हटाने की ताकत भाजपा के पास है।

घोषणा पत्र जारी करने वालों को भाजपा कर देती है रिटायर

अखिलेश यादव ने बुधवार को पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में चुटकी लेते हुए कहा कि भाजपा जिससे घोषणा पत्र जारी कराती है उसे बाद में रिटायर कर देती है। इस बार भी ऐसी ही साजिश की गई है। उनका इशारा राजनाथ सिंह की तरफ था। अपनी बात की पुष्टि के लिए लोकसभा चुनाव 2014 का हवाला भी दिया। मुरली मनोहर जोशी का नाम लिए बिना कहा कि सांसद रहते हुए उनके साथ कानपुर मेट्रो का शिलान्यास किया था। आज उनका पत्र सोशल मीडिया पर वयरल हो रहा है। राजनाथ सिंह पर तंज कसते हुए कहा कि दिल्ली ने लखनऊ में एक भी काम नहीं होने दिया।

वाराणसी का उम्मीदवार देखकर लगेगा चरखा दांव

अखिलेश ने वाराणसी से किसे उम्मीदवार घोषित किए जाने के सवाल पर कहा कि इंतजार कीजिए ऐसा उम्मीदवार देंगे जिसे देखकर लगेगा क्या चरखा दांव दिया है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष द्वारा अखिलेश के होटल बनवाए जाने के सवाल कहा कि ब्राह्मण होकर झूठ बोल रहे हैं। वह खुद चुनाव नहीं जीत रहे हैं। वह बताएं कहां होटल हम बनवा रहे हैं लाल टोपी लगाकर वहां पहुंच जाएंगे। उन्हें यह भी बताना चाहिए कि उनकी पार्टी में कैसे जूते चले।

गठबंधन को खूब वोट मिलेगा

उन्होंने कहा कि पहले चरण में जिस तरह से वोट की बारिश हुई है उसी तरह दूसरे चरण भी गठबंधन पर वोटों की बारिश होगी। देश में कई बड़े मुद्दे हैं, लेकिन इससे ध्यान हटाने की कोशिशें होंगी। गठबंधन विकास पर विश्वास करता है। उसे चुनकर देखें कितना विकास होता है। सपा, बसपा व रालोद गठबंधन भाजपा को रोकने में सक्षम है।

महिलाओं पर किसी प्रकार की टिप्पणी ठीक नहीं: डिंपल

पूनम सिन्हा व डिंपल यादव से मो. आजम खां द्वारा जयाप्रदा पर महिला विरोधी की गई टिप्पणी संबंधी पूछे गए सवाल पर पहले अखिलेश यादव ने सफाई दी। उन्होंने कहा कि सपा में महिलाओं का सबसे अधिक सम्मान है। 1090 और डायल 100 की शुरुआत हुई। बाबा अब इसे भी खत्म करने की साजिश कर रहे हैं। डिंपल यादव ने कहा कि महिलाओं के खिलाफ किसी टिप्पणी को सही नहीं ठहराया जा सकता। जब दयाशंकर सिंह ने मायावती पर टिप्पणी की थी तब मीडिया ने मुद्दा नहीं बनाया। जब भाजपा प्रत्याशी के खिलाफ कोई बोलता है तभी मुद्दा बनता है। इसलिए छोटी छोटी बातों में पड़ने की जरूरत नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: CM will stop speaking how will we win Akhilesh