CM warns police officers - खराब एसपी को हटाने पर लोग मंदिर में चढ़ाते हैं प्रसाद : सीएम DA Image
6 दिसंबर, 2019|7:37|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खराब एसपी को हटाने पर लोग मंदिर में चढ़ाते हैं प्रसाद : सीएम

--खराब एसपी को हटाने पर लोग मंदिर में चढ़ाते हैं प्रसाद

-देश विदेश में होती है यूपी पुलिस की तारीफ

--एटीएस का हो सकता है पूनर्गठन

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि अपराधियों और देशद्रोहियों का कैसा मानवाधिकार। जो दूसरों के मानवाधिकार नहीं मानते उनसे पुलिस को कठोर व सख्त रुवैया से निपटना होगा। हां, आमजन मानस के लिए पुलिस के मन में मानवतावादी सोच होनी चाहिए। पुलिस को आम लोगों के लिए संवेदनशील होना चाहिए। पुलिस लोगों का बल बने जनता के लिए बला नहीं।

मुख्यमंत्री पुलिस वीक के मौके पर शुक्रवार को वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कानून-व्यवस्था में सुधार के लिए पुलिस की पीठ थपथपाई तो दूसरी तरफ खराब आचरण के लिए कड़वी नसीहत भी दी। उन्होंने कहा कि मेरे पास सभी के फीडबैक आते हैं। यदि किसी जिले से कोई खराब पुलिस कप्तान हटाया जाता है तो लोग मंदिर में प्रसाद चढ़ाते हैं।

यूपी पुलिस की दुनिया भर में हुई तारीफ

यूपी 100 सभागार में आयोजित इस सम्मेलन में मुख्यमंत्री कड़े तेवर में दिखे। मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी पुलिस को बदनाम करने के बहुत प्रयास हुए। कुछ संगठन मानवाधिकारों के नाम पर आतंकियों की वकालत करते हैं लेकिन अपराधियों से निपटने के यूपी पुलिस के मॉडल की देश-दुनिया में तारीफ़ हुई। पुलिस की वजह से अपराधी गले में तख्ती टांगकर घूमते हैं कि हमें जेल भेज दो। उन्होंने कहा कि अच्छे पुलिस कप्तान को लोग बरसों याद रखते हैं। खराब कप्तान जब जिले से हटाया जाता है तो लोग मंदिर में प्रसाद चढ़ाते हैं।

पुलिस की छवि बदलने में कामयाब हुए हम

मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी में ढेर सारी चुनौतियां हैं। पिछले पौने दो साल में देश के सामने यूपी का ‘परसेप्शनबदलने में पुलिस ने अहम भूमिका निभाई। माफियागिरी और सांप्रदायिक झड़पों के लिए यूपी बदनाम था, लेकिन पुलिस ने यूपी की छवि बदली है। प्रदेश में त्योहारों को सकुशल सम्पन्न कराया। बेहतर कानून-व्यवस्था के चलते फरवरी 2018 में इन्वेस्टर्स समिट हुई, जिसमें देश का हर बड़ा उद्योगपति आया। यूपी में सुरक्षा का जो माहौल बना उसकी वजह से देश-दुनिया के निवेशक यूपी में निवेश करने को तैयार हुए। सुरक्षा का एहसास गांव की एक महिला से लेकर देश के टॉप उद्योगपति तक कर रहे हैं। उद्योगपति रतन टाटा ने मुझसे कहा कि अब यूपी का ‘परसेप्शन बदला है। मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव डॉ. अनूप चंद्र पांडेय और उनकी टीम को भी शाबाशी दी।

एटीएस ने संगठित अपराध को खत्म किया

मुख्यमंत्री ने कहा कि आतंकी घटनाएं रोकने के लिए एटीएस का पुनर्गठन किया गया। इसी तरह एसटीएफ ने संगठित अपराध को समाप्त किया। पहले यूपी में आपदा प्रबंधन की कोई यूनिट नहीं थी। हमने एसडीआरएफ बनाई। बाढ़ के दौरान एनडीआरएफ के साथ एसडीआरएफ, पीएसी फ्लड यूनिट व पुलिस ने भी अच्छा काम किया। पीएसी में तीन महिला वाहिनी के गठन का काम भी शुरू किया गया है। उन्होंने कहा कि अपराध बढ़ने में कभी-कभी राजस्व विवाद भी शामिल होते हैं। इस कारण थाना दिवस व तहसील दिवस को कारगर बनाया जाना चाहिए।

मुझे बार-बार पुलिस अधिकारियों को करना पड़ता है फोन

मुख्यमंत्री ने कहा कि अपराध की घटनाएं बढ़ेंगी तो पुलिस की छवि पर आंच आएगी ही। पुलिस अधिकारी फील्ड में रहते हैं लेकिन आम आदमी मेरे पास आता है। पुलिस यदि आम आदमी से मिलेगी तो ऐसी नौबत नहीं आएगी। मुझे आज भी बार-बार पुलिस अधिकारियों को फोन करना पड़ता है। पुलिस की वर्दी को फलदार वृक्ष की तरह झुकना होगा। पुलिस के कामों में अब कोई राजनैतिक दखल नहीं है।

एंटी रोमियो स्क्वाएड को सक्रिय रखें

उन्होंने याद दिलाया कि एंटी रोमियो स्क्वाड केवल तात्कालिक व्यवस्था नहीं है, यह लंबी चलने वाली व्यवस्था है। अगर एंटी रोमियो स्क्वायड प्रबल हो तो महिलाओं के खिलाफ घटनाएं नहीं होंगी। पुलिस को फुट पेट्रोलिंग भी बढ़ानी होगी। उन्होंने पुलिस कप्तानों को हिदायत दी कि किसी भी दागी छवि के व्यक्ति को थाने का चार्ज न दें। साथ ही किसी कमज़ोर व्यक्ति को भी थाने का चार्ज न दें। एडीजी व आईजी को भी फील्ड में निकलना चाहिए। उन्होंने कहा कि पुलिस लाइंस और थानों में गंदगी है। अधिकारी निरीक्षण करेंगें तो सार्थक परिणाम मिलेंगे। पुलिस कालोनियों में कभी सफाई नहीं होती है। डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि मज़बूत कानून-व्यवस्था के बगैर प्रदेश का सर्वांगीण विकास संभव नहीं है।

सीएम ने किया सम्मानित

मुख्यमंत्री ने सम्मेलन के दौरान एडीजी जोन मेरठ प्रशांत कुमार, डीआईजी कानून-व्यवस्था प्रवीण कुमार व एसटीएफ के एसएसपी अभिषेक सिंह को मुख्यमंत्री पदक से सम्मानित किया। आगरा में तैनात इंस्पेक्टर अलका ठाकुर, हेड कांस्टेबल अजय कुमार सिंह व लखनऊ के कांस्टेबल सुदीप कटियार को भी मुख्यमंत्री उत्कृष्ट सेवा पुलिस पदक दिया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कुंभ मेला पुलिस पर वेबसाइट भी लांच की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CM warns police officers