DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीएम योगी अब गंगा एक्सप्रेस वे प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने में जुटे

राज्य मुख्यालय / विशेष संवाददाता

चुनाव नतीजे आने से पहले ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में चल रहे इंफ्रास्ट्रक्चर से जुड़े मेगा प्रोजेक्ट की मंगलवार को समीक्षा की। उन्होंने दुनिया भर में सबसे लंबे एक्सप्रेस वे माने जा रहे गंगा एक्सप्रेस वे प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने पर ध्यान देना शुरू कर दिया है। उन्होंने इस प्रोजेक्ट की समीक्षा कर कहा कि इस काम अब तेजी से शुरू कराया जाए और दो महीने में सर्वे रिपोर्ट तैयार कर ली जाए।

सीएम की मंशा को देखते हुए अब बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का शिलान्यास व गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे का शिलान्यास अगस्त में कराने की तैयारी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपीडा के प्रोजेक्ट पूर्वांचल एक्सप्रेस वे, बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे, डिफेंस कारीडोर आदि प्रोजेक्ट का समीक्षा की।

बैठक में उन्हें बताया गया कि पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का काम तेजी से चल रहा है। मिट्टी बिछाने के काम करीब 42 प्रतिशत हो गया है। अब तक सड़क का काम दस प्रतिशत हो गया है। अगले 14 महीने यानी अगस्त 2020 तक एक्सप्रेस वे की मुख्य सड़क बन कर तैयार हो जाएगी। केवल 180 हेक्टयर जमीन अभी अधिग्रहीत की जानी है। सीएम ने कहा कि यह काम और जल्दी होना चाहिए। उन्होंने मुख्य सचिव को निर्देश दिए कि वह इस संबंध में संबंधित डीएम को निर्देश दे। जमीन अधिग्रहण का काम 30 जून तक हर हाल में हो जाना चाहिए।

सीएम ने गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे व प्रयागराज लिंक एक्सप्रेस वे परियोजना की भी समीक्षा की। यह दोनों लिंक एक्सप्रेस वे पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से जुड़ेंगे। सीएम ने कहा कि मेरठ से प्रयागराज तक बनने वाले गंगा एक्सप्रेस वे का काम अब शुरू हो जाना चाहिए। यह भी कहा कि अफसरों को अब और तेजी से काम करने की जरूरत है। चुनाव खत्म हो गए हैं अब अधिकारी पहले की तरह और मेहनत से काम करें। बैठक में मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडेय, अपर मुख्य सचिव सूचना व सीईओ यूपीडा अवनीश अवस्थी, प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास राजेश सिंह व अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CM