अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोंडा : ह्यूमन ट्रैफिकिंग के शिकार छत्तीसगढ़ के बच्चे को बचाया गया

Gonda, Smile, Operation

1 / 2गोंडा : ह्यूमन ट्रैफिकिंग के शिकार छत्तीसगढ़ के बच्चे को बचाया गया

Gonda, Smile, Operation

2 / 2 गोंडा : ह्यूमन ट्रैफिकिंग के शिकार छत्तीसगढ़ के बच्चे को बचाया गया

PreviousNext


जिले की पुलिस बुधवार रात आपरेशन स्माइल के तहत मानव तस्करी के लिए ले जाए जा रहे छत्तीसगढ़ के एक बालक को बचाने में कामयाब रही है। मानव तस्कर बच्चे को छत्तीसगढ़ से कहीं आगे जा रहे थे। बुधवार रात करीब 12 बजे बच्चे को बचाने के बाद उससे जानकारी हासिल करने के बाद परिजनों को सूचित किया गया। हालांकि मानव तस्कर भागने में सफल रहे लेकिन पुलिस के हाथ अहम सुराग लगे हैं। जिसे लेकर पुलिस अलग-अलग टीम बनाकर इसका पर्दाफाश करने में जुट गई है।
बुधवार रात एएसपी मणिलाल पाटीदार ने बताया कि ऑपरेशन स्माइल के अंतर्गत डायल 100 पीआरबी 866 व उप निरीक्षक रमेश चंद्र थाना इटियाथोक द्वारा एक बालक पुत्र गोवर्धन जनपद लखनपुर राज्य छत्तीसगढ़ को जिसे छत्तीसगढ़  से मानव तस्करी कर अन्यत्र कहीं ले जाया जा रहा था जिसे सकुशल बरामद किया गया है। मीडिया सेल उप निरीक्षक अरविंद वर्मा की सहायता से छत्तीसगढ़ पुलिस से संपर्क कर बालक के पारिवारिकजनों को खोजा गया चाइल्ड लाइन समन्वयक इकबाल उस्मानी की मौजूदगी में बालक को उसके पिता के सुपुर्द किया गया।
उन्होंने कहा कि पुलिस की ओर से तत्परतापूर्वक किए गए कार्य के कारण एक बालक को बचाया जा सका है। उन्होंने बताया कि इस मामले के उजागर होने के बाद छत्तीसगढ़ और जिला पुलिस ने मानव तस्करों के विरुद्ध संयुक्त रूप से अभियान चलाने का फैसला किया है। एसपी लल्लन सिंह ने आपरेशन अंजाम देने वाली पुलिस टीम की सराहना की है। एसआई रमेश चंद्र बच्चे को नए कपड़े वह भोजन करा उसके  पिता के आने तक देखभाल करते रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Child of Chhattisgarh victim of human trafficking has been rescued