अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुख्य सचिव ने कुंभ मेला कामों का पैसा न देने पर लगाई फटकार

- कुंभ मेला क्षेत्र में अटल कार्नर बनाया जाएगा

प्रमुख संवाददाता- राज्य मुख्यालय

मुख्य सचिव डा. अनूप चंद्र पांडेय ने कुंभ मेले के लिए 929 करोड़ रुपये से 120 कामों का शासनादेश जारी न होने पर नाराजगी जताई। इसे तीन दिन में जारी करने का निर्देश दिया। कुंभ मेला क्षेत्र में 10 एकड़ में संस्कृत ग्राम बसाया जाएगा। नई तकनीकीयुक्त प्रणाली का उपयोग कर ‘अटल कार्नर बनाकर लोगों को बेहतर जानकारियां दी जाएं।

मुख्य सचिव बुधवार को एनेक्सी में कुंभ मेले के लिए मंजूर काम की समीक्षा तथा नए कामों की सैद्धांतिक स्वीकृति देने की बैठक कर रहे थे। कुंभ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को सहयोग देने के लिए कुंभ मित्रों को प्रशिक्षण देने को एक करोड़ रुपये मंजूर किया। प्रमुख देशों की धार्मिक गतिविधियों व साहित्य की पुस्तकें उपलब्ध कराने के लिए कुंभ मेला परिसर में पुस्तक मेले का आयोजन किया जाए।

उन्होंने कहा कि कुंभ मेला परिसर को साफ रखने के लिए 2000 स्वच्छ गृहियों को रखा जाएगा। मेला परिसर क्षेत्र में स्वच्छ ग्राम प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। इलाहाबाद के विभिन्न पुलिस स्टेशनों पर खड़े सीज वाहनों को दूसरे स्थान पर रखा जाए। किसी आपात स्थिति से निपटने के लिए रिवर एंबुलेंस व एयर एंबुलेंस के प्रस्ताव को मंजूरी दी। गंगा नदी पर बने शास्त्री ब्रिज में ग्रीन बेल्ट विकसित किया जाएगा। मेला स्थल पर स्थाई पुलिस थाना चौकी बनाने के लिए 21 लाख मंजूर किया।

मंडलायुक्त इलाहाबाद आशीष कुमार गोयल ने बताया कि कुंभ मेले के लिए 269664.56 लाख रुपये की स्वीकृति प्राप्त की जा चुकी है। इसके अलावा 174167.06 लाख रुपये की प्रशासकीय व वित्तीय स्वीकृति प्रदान करते हुए 118636.935 लाख रुपये की वित्तीय स्वीकृति जारी की जा चुकी है। इसमें 82211.30 लाख रुपये की वित्तीय प्रशासकीय स्वीकृति प्रक्रियाधीन है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Chief Secretary spurned on not giving money for Kumbh Mela work