DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उन्नाव रेप कांड में सीबीआई ने दर्ज किया चौथा मुकदमा

विधायक की सहयोगी के तौर पर गिरफ्तार शशि सिंह का बेटा शुभम सिंह भी मुकदमे में आरोपी प्रमुख संवाददाता-राज्य मुख्यालय सीबीआई ने सोमवार को देर शाम उन्नाव रेप कांड में चौथा मुकदमा दर्ज कर लिया। यह मुकदमा 11 जून 2017 की घटना से संबंधित है जिसमें रेप पीड़िता को बहला फुसलाकर भगा ले जाने का आरोप लगाया गया था। इस मामले में उन्नाव पुलिस ने भी मुकदमा दर्ज किया था और तीनों नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। सीबीआई की ओर से यह चौथा मुकदमा दर्ज किए जाने से मामले में नया मोड़ आ गया है। इससे यह पता चलता है कि सीबीआई पीड़िता से जुड़े पुराने विवादों की कड़ियां भी जोड़ने में लगी है। ताजा मुकदमा उन्नाव जिले के माखी थाने में दर्ज मुकदमे के आधार पर ही दर्ज किया गया है। यह घटना 11 जून 2017 को हुई थी जिसमें तीन लोगों शुभम सिंह, नरेश तिवारी व बृजेश यादव पर पीड़िता को बहला फुसलाकर भगा ले जाने का आरोप लगाया गया था। इस संबंध में 20 जून 2017 को माखी थाने में धारा 363 व 366 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस ने पीड़िता को बरामद कर उसका मेडिकल कराया तो गैंगरेप की पुष्टि हुई थी। इसके बाद आरोपियों के विरुद्ध मुकदमे में गैंगरेप और पाक्सो एक्ट की धाराएं भी बढ़ा दी गईं। माखी पुलिस इस मामले में कोर्ट में चार्जशीट भी लगा चुकी है। जून 2017 के इस मुकदमे में आरोपी बनाया गया शुभम सिंह विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की कथित सहयोगी के तौर पर सीबीआई द्वारा गिरफ्तार की गई शशि सिंह का बेटा है। आरोपों के बावजूद विधायक कुलदीप सिंह को क्लीचिट देती रही माखी पुलिस इसी मुकदमे को अपना आधार बना रही थी। पुलिस का कहना था कि इस मुकदमे में न तो विधायक को आरोपी बनाया गया था और न ही पीड़िता ने मजिस्ट्रेट के सामने अपने कलमबंद बयान में ही विधायक का नाम लिया था। सीबीआई अब इस मुकदमे की भी पुनर्विवेचना करने जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CBI filed fourth case in Unnav rape case