DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गन्ना किसानों को घोषणापत्र देने का अंतिम अवसर

गन्ना आयुक्त संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि उन गन्ना किसानों को घोषणा पत्र देने का एक अंतिम अवसर दिया गया है जो गन्ना सर्वे के दौरान उसे नहीं भर पाए थे। घोषणा पत्र नहीं भरने वाले किसान को आगामी पेराई सत्र में गन्ना आपू्र्ति की सुविधा नहीं मिलेगी।

उन्होंने बताया कि पेराई सत्र 2018-19 के लिए सर्वे कार्य पूरा हो चुका है। सर्वे सूची के प्रदर्शन का कार्य भी शुरू हो चुका है। जिन गन्ना किसानों ने अभी तक खतौनी की स्वप्रमाणित प्रति नहीं उपलब्ध कराई है, उनसे भी संबंधित समिति में तत्काल खतौनी देने को कहा गया है। यह भी अनिवार्य किया गया है कि घोषणा पत्र के साथ अपनी पहचान के लिए किसान को आधार कार्ड जमा करना होगा। आधार कार्ड नहीं होने की स्थिति में मतदाता पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस या बैंक पासबुक की छाया प्रति संबंधित समिति कार्यालय में जमा करनी होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Cane department given opportunity