DA Image
3 अगस्त, 2020|11:57|IST

अगली स्टोरी

कामकाज...विधान भवन रक्षक को विधायक द्वारा पीटे जाने के मामले ने तूल पकड़ा

default image

प्रमुख संवाददाता---राज्य मुख्यालयविसवां (सीतापुर) के विधायक महेन्द्र प्रताप सिंह द्वारा सचिवालय के गेट नम्बर-9 पर विधान भवन रक्षक को पीटे जाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। बुधवार को हुई इस घटना को लेकर उत्तर प्रदेश सचिवालय विधान भवन रक्षक संघ के पदाधिकारियों ने गुरुवार को विधान भवन रक्षक संघ के अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार के नेतृत्व में अपर मुख्य सचिव सचिवालय प्रशासन हेमन्त राव से लेकर विधान सभा अध्यक्ष के सलाहकार आरसी मिश्रा, विधानसभा के प्रमुख सचिव प्रदीप दुबे और मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव एससी गोयल व मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी से मिलकर ज्ञापन सौंपा। आरोपी विधायक के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की। बाद में योगेन्द्र कुमार ने बताया कि हर स्तर से सकारात्मक संकेत मिले हैं लिहाजा हम शासन और सरकार का रुख देखकर अगला कदम उठाएंगे। आरोप हैं कि बुधवार को गेट नम्बर 9 पर तैनात विधान भवन रक्षक सर्वेन्द्र सिंह राठौर के साथ विसवां के विधायक महेन्द्र प्रताप सिंह ने गेट खोले जाने को लेकर दुर्व्यहार किया और गाली-गलौज कर पीटा। उस रक्षक के हाथ में पहले से ही रॉड पड़ा है। रक्षकों का आरोप है विधायक ने उस हाथ पर भी प्रहार किया, जिससे सर्वेन्द्र को अत्यधिक शारीरिक क्षति पहुंची है। उन्होंने बताया कि पूरे घटनाक्रम के वीडियो फुटेज मुख्य सुरक्षा अधिकारी की ओर से सचिवालय प्रशासन के अपर मुख्य सचिव को सौंपी दी गई है।सचिवालय के कई संगठन समर्थन में आएविधान भवन रक्षक के साथ विधायक के मारपीट के विरोध में सचिवालय कई संगठन सामने आ गए हैं। सचिवालय संघ के अध्यक्ष यादवेन्द्र मिश्र ने कहा कि विधायकों द्वारा रक्षकों के साथ मारपीट की घटनाएं बार-बार हो रही हैं जो अच्छे संकेत नहीं है। उत्तर प्रदेश सचिवालय राजपत्रित अधिकारी संघ के अध्यक्ष शिव गोपाल सिंह एवं सीधी भर्ती संघ के उपाध्यक्ष शशिकान्त शुक्ला ने कहा कि पिछले सत्र के दौरान ही एक विधायक ने एक वाहन चालक को पीट दिया था। तब विधानसभा अध्यक्ष ने बकायदा आदेश जारी कर ऐसी स्थितियों से बचने की विधायकों को हिदायत दी थी लेकिन विधायक अपनी ड्यूटी निभा रहे छोटे कर्मचारियों पर ही धौंस जमाना अपनी शान समझते हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Business Legislative building guard beaten up by MLA case