अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आग में जिंदा जली बच्ची, दो अन्य की हालत गंभीर

अज्ञात कारणों से लगी आग में झुलस कर छोटी बहन की मौत हो गई। जबकि बड़ी बहन की हालत गंभीर है। बेटियों को बचाने गई मां गंभीर रूप से झुलसी है। सात फूस के मकान अग्निकांड में खाक हुए हैं। घटना जरवा कोतवाली क्षेत्र के सिसई गांव में बुधवार दोपहर साढ़े बारह बजे हुई है। 
सिसई गांव में बुधवार दोपहर अधिकांश लोग खेत में काम करने गए थे। अचानक मोतीलाल के फूस के मकान से आग की लपटें उठने लगीं। देखते ही देखते हकीम, रईस, अमरे, फुलगेदा, राजेन्दर व राधेश्याम के मकान आग की चपेट में आ गए। राधेश्याम उनकी पत्नी गीता व चार बच्चे खेत में गन्ना काट रहे थे। उनकी दो पुत्रियां ढाई वर्षीय कुसमा व सात वर्षीय नंदिनी घर में सोई थी। गांव में आग लगने की खबर पाकर राधेश्याम व गीता घर की ओर दौड़ पड़े। किसी तरह गीता ने नंदिनी को घर से बाहर निकाल लिया लेकिन कुसमा को बाहर नहीं निकाल सकी। उसकी आग की लपटों में झुलस कर मौत हो गई। गीता व नंदिनी भी बुरी तरह झुलसी हैं। ग्रामीणों ने मिलकर किसी तरह आग पर काबू पाया। तुलसीपुर के एसडीएम एसके त्रिपाठी, नायब तहसीलदार श्रीस त्रिपाठी, राजस्व निरीक्षक मोहम्मद रफीक, लेखपाल विजय कुमार सोनी व प्रभारी निरीक्षक गंगेश शुक्ला ने घटना स्थल का जायजा लिया। गीता व नंदिनी को तुलसीपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया है। कोतवाल ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Burnaby alive two others seriously injured in fire