DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › लखनऊ › ब्लैक व वाइट फंगस मरीज का जटिल ऑपरेशन कर बचाया
लखनऊ

ब्लैक व वाइट फंगस मरीज का जटिल ऑपरेशन कर बचाया

हिन्दुस्तान टीम,लखनऊPublished By: Newswrap
Thu, 03 Jun 2021 10:40 PM
ब्लैक व वाइट फंगस मरीज का जटिल ऑपरेशन कर बचाया

फैजाबाद की बुजुर्ग महिला संक्रमित

लखनऊ। वरिष्ठ संवाददाता

गाजियाबाद के बाद अब लखनऊ के एक मरीज में ब्लैक व वाइट फंगस की पुष्टि हुई है। दोनों तरह के फंगस ने बुजुर्ग महिला के चेहरे पर हमला बोला था। चेहरे पर बड़ा चीरा लगाकर जटिल ऑपरेशन कर महिला की जान बचाई गई। फंगस के प्रकार (वैरियंट) का पता लगाने के लिए नमूना प्रयोगशाला भेजा गया है।

फैजाबाद निवासी सरस्वती वर्मा (63) अप्रैल के दूसरे सप्ताह में कोरोना पॉजीटिव हुई थीं। करीब 20 दिन बाद दोबारा जांच कराई गई। जिसमें उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आईं। परिवारीजनों के मुताबिक संक्रमण के बाद बुजुर्ग की तबीयत में सुधार होने लगा। ठीक होने के एक सप्ताह बाद उनके चेहरे पर दर्द महसूस होने लगा। चेहरे में भारीपन, आंख व सिर दर्द शुरू हो गया। स्थानीय डॉक्टरों से संपर्क किया। इलाज कराया। फायदा नहीं हुआ।

यलो फंगस से इनकार

परिवारीजन 17 मई को मरीज को लेकर रायबरेली रोड स्थित राजधानी अस्पताल लेकर पहुंचे। यहां डॉ. अनुराग यादव ने मरीज को देखा। जरूरी जांचें कराईं। जांच में ब्लैक और वाइट फंगस की पुष्टि हुई। डॉ. अनुराग यादव के मुताबिक यलो फंगस की भी आशंका हुई। एमआरआई समेत दूसरी जांचें कराई गई जिसमें पस की पुष्टि हुई। वह यलो फंगस नहीं था। लिहाजा महिला को दो तरह के फंगस ने जकड़ रखा था। संक्रमण काफी था। उम्र ज्यादा होने की वजह से इलाज और कठिन हो गया था। जांच के बाद मरीज का ऑपरेशन करने का फैसला किया।

तीन घंटे चला ऑपरेशन

डॉक्टरों की टीम ने 30 मई को ऑपरेशन किया। डॉ. अनुराग के मुताबिक फंगस का प्रकोप कम होने की दशा में नाक के रास्ते एंडस्कोप से ऑपरेशन करते हैं। पर, महिला के चेहरे पर काफी सूजन थी। लिहाजा आंख व नाक के बीच में बड़ा चीरा लगाकर ऑपरेशन किया गया। करीब तीन घंटे ऑपरेशन चला। अब महिला की तबीयत पहले से बेहतर है। उन्होंने बताया कि यदि इलाज और ऑपरेशन में देरी होती तो महिला की जान बचाना कठिन हो जाता है।

नाम में मिला था ब्लैक फंगस

डॉ. अनुराग यादव ने बताया कि मरीज के नाक में ब्लैक फंगस था। संक्रमण की वजह से साइनस में पस पनप आया था। वहीं मैग्जिलरी हड्डी के ऊपर वाइट फंगस की पुष्टि हुई है।

संबंधित खबरें