DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाकियू ने बीकेटी ब्लॉक पर जड़ा ताला,एडीओ पंचायत को बंधक बनाया

बीकेटी हिन्दुस्तान संवादग्रामीणों ने गुरुवार को बख्शी का तालाब ब्लॉक मुख्यालय के गेट पर ताला जड़ दिया। शौचालय, खड़ंजा, पीएम आवास योजना में भ्रष्टाचार का आरोप लगा रहे ग्रामीणों ने एडीओ पंचायत और एक वीडीओ को उनके दफ्तर में बंद कर दिया। तीन घंटे तक इन दोनों अधिकारियों को बंधक बनाए रखा। इस बीच एसडीएम भी मौके पर पहुंची लेकिन प्रदर्शनकारी टस से मस नहीं हुए।किसान यूनियन की अगुवाई में गुरुवार को सैकड़ों ग्रामीण ब्लॉक कार्यालय पहुंचे। प्रदर्शन कर रहे ग्रामीण मौके पर मुख्य विकास अधिकारी को बुलाने की मांग कर रहे थे। ग्रामीणों ने बक्शी का तालाब ब्लॉक की उनई, सरसावा, गोहना खुर्द, सुलतानपुर सहित कई गांवों में हुए विकास कार्यों में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। किसान यूनियन के कार्यकर्ता जब बीकेटी ब्लॉक कार्यालय पहुंचे तो एडीओ कार्यालय में मौजूद सम्बन्धित गावों के वीडियो कमरे छोड़ कर भागे। इस बीच किसान यूनियन के सदस्यों ने एडीओ पंचायत और एक वीडीओ को उनके ही दफ्तर में बंदकर दिया।तीन घंटे तक बंधक रहे एडीओ पंचायतकिसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने एक सचिव सहित एडीओ पंचायत को लगभग तीन घंटे तक बंधक बनाए रखा। सूचना पर पहुची बीकेटी एसडीएम निधि गुपता भी ग्रामीणों को समझा नहीं सकीं। बीकेटी पुलिस के हस्तक्षेप के बाद किसान यूनियन ने दोनों को मुक्त किया और 17 सूत्रीय ज्ञापन एसडीएम को सौंपा ।टालमटोल से नाराज हुए ग्रामीणग्रामीणों में काफी समय से आक्रोश था। किसान यूनियन ने उनको रास्ता दिखा दिया। किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष मो. शकील ने बताया कि सुलतानपुर में 25 महिला मनरेगा मजदूरों को दो साल से मजदूरी नहीं मिली। ब्लॉक में जिन गांवों को खुले में शौच से मुक्त बनाया जा रहा है वहां शौचालयों में पीली ईंटों का प्रयोग हो रहा है। इन सब कारणों से ग्रामीण काफी समय से नाराज हैं। अफसर उनकी सुनवाई नहीं कर रहे हैं। तहसील दिवस से लेकर अन्य कई मौकों पर शिकायत की गई लेकिन उनका संज्ञान नहीं लिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bkt