DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीजेपी प्रदेश कार्य समिति : भ्रष्टाचार की पोल खोल देंगे गठबंधन का जवाब

 लोकसभा 2019 के चुनाव में सपा-बसपा के प्रस्तावित गठबंधन से भाजपा चिंतित
है। उसकी यह चिंता बीजेपी की कार्य समिति में जारी राजनैतिक प्रस्ताव में
दिखी। लोकसभा चुनाव से पहले गठबंधन से पार पाने के लिए बीजेपी ने अगले 6
माह के लिए रोडमैप तैयार कर कार्यक्रमों और अभियानों की झड़ी लगा दी है।
वहीं तय किया है कि विपक्ष को उसकी सरकारों के भ्रष्टाचार के जरिए घेर कर
गठबंधन का जवाब दिया जाएगा।

सपा-बसपा को भ्रष्टाचार पर घेरेंगे

इस राजनैैतिक प्रस्ताव में भाजपा ने अपने हिन्दुत्व और राष्ट्रवाद के
एजेंडे को साधकर विकास के रथ पर सवार होने का संकल्प लिया है। राजनैतिक
प्रस्ताव में सपा-बसपा की सरकारों के कामों में भ्रष्टïचार, जातिवाद, भाई
भतीजावाद करने का आरोप लगाया। वहीं प्रस्ताव में कहा गया कि भाजपा सरकार
ने सवा साल में ही अपराध और भ्रष्टचार का समूल नाश कर दिया है। पार्टी ने
तय किया है कि विपक्षी दलों के सरकार में हुए भ्रष्टाचार को मुद्दा बनाकर
उनके गठबंधन का जवाब दिया जाएगा।

सरकार की योजनाओं पर भरोसा

भाजपा ने विपक्ष पर बेमेल गठबंधन करने का आरोप लगाया और इसे पराजित करने
का संकल्प प्रदेश कार्य समिति की बैठक में लिया है। प्रदेश कार्यसमिति
बैठक के दूसरे दिन पार्टी ने राजनीतिक प्रस्ताव पारित किया और उसमें कहा
है कि एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ की सरकार समाज
के दलित, पिछड़े, गांव, गरीब किसान तक कल्याणकारी योजनाओं का लाभ देने
में जुटी हुई है तो दूसरी तरफ देश व प्रदेश के राजनीतिक दल हमारी सरकार
के विकास रथ को बेमेल गठजोड़ कर रोकने के लिए एकजुट होने का स्वांग रच
रहे हैं। भाजपा ऐसे अवसरवादियों को पहचान चुकी है और आने वालेे चुनाव में
मुंहतोड़ जवाब देगी।
प्रदेश सही हाथों में सही दिशा में बढ़ रहा
कार्य समिति में राजनैतिक प्रस्ताव प्रदेश महामंत्री विद्या सागर सोनकर
ने रखा और प्रस्ताव का समर्थन डिप्टी सीएम दिनेश शार्मा, प्रदेश
उपाध्यक्ष संजीव बालियान और जेपीएस राठौर ने किया। प्रस्ताव में बीजेपी
ने केंद्र और प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं का बखान किया है तो वही
विपक्षाी दलों के बेमेल गठबंधन के बीच जनता को विश्वास दिलाते हुए कहा कि
उप्र सुरक्षित हाथों में है और एक सही दिशा में निरंतर बढ़ रहा है।
बीजेपी प्रदेश की जनता के विश्वास पर खरी उतरे इसके लिए यह कार्य समिति
संकल्पित है।

पिछड़ा वर्ग आयोग के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद

बीजेपी ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिए जाने पर प्रधानमंत्री
नरेंद्र मोदी को प्रस्ताव पास कर धन्यवाद दिया। राजनैतिक प्रस्ताव में
बीजेपी ने शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, कानून-व्यवस्था, कानून-व्यवस्था,
सहकारिता, निवेश को बढ़ाने जैसे विषयों का जिक्र किया है। प्रस्ताव में
बीजेपी ने कहा कि राष्ट्र निर्माण और लोकतंत्र को अमर रखने के लिए मोदी
और  योगी के नेतृत्व में भाजपा की सरकारें काम कर रही हैं। एक ऐसे देश और
प्रदेश के निर्माण में समृद्धि, शक्ति शौर्य व विकास परिभाषित होता है।
2014 और 2017 का प्रदेश का चुनाव परिणाम इस बात की गवाही देता है कि जब
भी भाजपा के विचारों और इरादों को लेकर सवाल उठाए गए, हमे सांप्रदायिक
कहा गया तब देश और प्रदेश की जनता ने हमें एेतिहासिक बहुमत देकर हमारी
राष्ट्रवाद की नीति पर मोहर लगाई।
योगी सरकार ने बदली तस्वीर
योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार में उप्र की तस्वीर व तकदीर
बदल रही है। आज उप्र के दर्पण में कोई धब्बा नहीं है। आने वाला भविष्य
उज्जवल दिखाई दे रहा है, जो जनता के सपनों को सच्चाई के धरातल पर सजीव
करेगा। बीजेपी ने कहा कि योगी सरकार अनेकों ऐसी जनहित की योजनाएं सवा साल
में लेकर  आई है जो निश्चित रूप से उप्र को नई ऊंचाइयों पर लेकर जाएंगी।
किसानों पर भी रहा जोर
प्रस्ताव में कृषि के लिए समृद्धि व खुशहाल किसान, उद्योग के लिए एक जिला
एक उत्पाद, इन्वेस्टर्स समिट, आधारभूत ढांचा मजबूत उप्र की नींव,
संस्कृति का सम्मान व संरक्षाण जैसे विषयों पर काम-काज का गुणगान किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BJP will be riding on the chariots of Vikas