अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा सरकार जानबूझकर भर्तियां रोक रही: अखिलेश

प्रमुख संवाददाता- राज्य मुख्यालय

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार जानबूझकर नौजवानों की जिंदगी से खेल रही है। नौकरियों का विज्ञापन देकर भर्तियां किसी न किसी बहाने रोकी जा रही हैं। इसके बारे में भ्रामक व विरोधाभासी सूचनाएं दी जाती हैं। नौजवानों के जहां अयोग्य होने की बात की जा रही है, वहां छोटी-मोटी नौकरियों के लिए भी पोस्ट ग्रेजुएट और पीएचडी आवेदन कर रहे हैं।

अखिलेश ने कहा कि गोरखपुर विश्वविद्यालय छात्रसंघ का चुनाव टालने से लग रहा है कि भाजपा सरकार ने वहां पहले से हार मान ली है। पार्टी कार्यालय पर बुधवार को बीटीसी प्रशिक्षुओं के प्रतिनिधिमंडल ने भेंट कर अखिलेश को ज्ञापन दिया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री का सरकारी नौकरी में आने वाले युवाओं को अयोग्य ठहराने का बयान पूरी तरह गलत है। यूपीपीसीएल में 2849 नौकरियां निकलीं और पेपरलीक के बहाने इसे स्थगित कर दिया गया। नलकूप चालक के 3210 पदों की भर्ती में 2.5 लाख आवेदन आए। पर्चा लीक होने के बाद इसे स्थगित कर दिया गया।

यूपी पुलिस में 2709 सब इंस्पेक्टर की भर्ती में 1.20 लाख आवेदन आए, पेपरलीक के बहाने भर्ती रोक दी गई। पुलिस में 62 चपरासियों के पदों के लिए 93000 आवेदन आए, जिसमें 3700 पीएचडी थे। यह भर्ती भी नहीं हुई। यूपी पुलिस में 41520 कांस्टेबिल पद के लिए 10 लाख आए।

उन्होंने कहा है कि जाहिर है युवाओं की अयोग्यता की बात बेबुनियाद है। भाजपा सरकार युवाओं को रोजगार देने के आंकड़ों में हेराफेरी कर रही है। भदोही के कारपेट एक्सपो मार्ट में मुख्यमंत्री ने 20 लाख युवाओं को रोजगार देने की घोषणा की। 20 मार्च 2018 को भाजपा सरकार के एक साल पूरा होने पर मुख्यमंत्री ने 64 विभागों में 4 लाख नौकरियां देने का एलान किया। 29 जनवरी 2018 को गोरखपुर में 162000 पदों पर भर्तियां करने और फिर 7 फरवरी 2018 को 9 लाख युवाओं को रोजगार देने की बात कही। यूपी इन्वेस्टर्स समिट में तीन साल में 40 लाख रोजगार देने का एलान किया गया।

इससे पूर्व 1 मई 2017 को मुख्यमंत्री ने भाजपा प्रदेश कार्यसमिति में पांच साल में 70 लाख लोगों को रोजगार देने का वादा किया था। यह नौजवानों को अपमानित करने जैसा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BJP government deliberately stopping recruitment Akhilesh