DA Image
12 अगस्त, 2020|12:20|IST

अगली स्टोरी

किसानों के खेत छीन कर कारपोरेट घरानों को देने की भाजपा कर रही साजिश : अखिलेश

default image

राज्य मुख्यालय--विशेष संवाददातासमाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार की कुनीतियों से कृषि क्षेत्र पर गम्भीर संकट के बादल छा गए हैं। अभी गत जून में आर्थिक सुधार के नाम पर भाजपा की केन्द्र सरकार जो तीन अध्यादेश लाई है उससे किसानों की दशा के दुर्दशा में बदलने में देर नहीं लगेगी। भाजपा किसान से उसके खेत को ही छीन कर कारपोरेट घरानों को देने की साजिश कर रही है। वह इस क्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा पूंजीनिवेश का भी रास्ता खोल रही है, देश का किसान तब विदेशी कंपनियों का बन्धक बन जाएगा। अखिलेश यादव ने गुरुवार को बयान में यह बात कही। भाजपा ने पहले किसानों की आय दुगनी करने का और फसल का दाम डयोढ़ा करने का जो वादा किया, उसकी अब चर्चा भी नहीं होती है। उसकी जगह कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग की वकालत की जाने लगी है। इसमें किसान का मालिकाना हक भी चला जाएगा। किसान को न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) मिलना चाहिए लेकिन सरकार इसे दिलाने में पूरी तरह विफल रही है। भाजपा सरकार ने खेती को आवश्यक वस्तु अधिनियम से हटाकर और दूसरे राज्यों में भी फसल बेचने की सुविधा देकर कोई बड़ा उपकार किसानों पर नहीं किया है। जब अपने प्रदेश में ही वे उपेक्षित हैं, साधन विहीन हैं तो वे बाहर कहां बाजार की खोज करने जा सकेंगे?

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:BJP conspiring to take away farmers 39 fields and give it to corporate houses Akhilesh