अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भगवान के भक्त का कभी नाश नही होता

लखनऊ। निज संवाददाता

भगवान के भक्त का कभी नाश नही होता। वेद व्यास, देवर्षि नारद, शुकदेव जी, द्रोपदी, कुंती, पितामह, अर्जुन और परीक्षित जैसे भक्तों को भगवान की अपार कृपा प्राप्त हुई। यह बात सद्गुरु चरणामृत सत्संग सेवा समिति की ओर से माधव सभागार निरालानगर में चल रही भागवत कथा के तीसरे दिन बुधवार को स्वामी अभयानन्द सरस्वती ने कही। स्वामी ने कहा कि भीष्म पितामह शर शैया पर लेटे हुये है भगवान कृष्ण उनके पैरो के निकट खड़े हैं। भीष्म कहते है प्रभु मेरा कितना बड़ा सौभाग्य है कि आप मेरे पैरो के पास खड़े हैं। तीन लोक के स्वामी आज मै आपका दर्शन कर रहा हूं। कथा में संजय मिश्रा, अनुराग मिश्रा, अखिलेश वर्मा, कौशलेन्द्र मिश्रा मौजूद रहे। कथा 16 सितम्बर तक शाम 6 से 8 बजे तक होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bhagvatkta