अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाराबंकी में अबीर पड़ने पर को श्रद्धालुओं पर हमला, महिलाओं की पिटाई, अभद्रता, जेवर छीने

बाराबंकी में अबीर पड़ने पर श्रद्धालुओं को पीटा, महिलाओं से अभद्रता

दुस्साहस

पूजा के लिए लोधेश्वर महादेवा जा रहे थे श्रद्धालु, महादेवा में हुई घटना

समुदाय विशेष के हमले में 12 लोग घायल, महिलाओं के जेवर छीने

भारी फोर्स तैनात, मुकदमा दर्ज, पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया

रामनगर (बाराबंकी)। हिन्दुस्तान संवाद

लोधेश्वर महादेव जा रहे ट्रैक्टर-ट्रालियों पर सवार श्रद्धालुओं पर एक समुदाय विशेष के लोगों ने हमला कर दिया। यह हमला महादेवा मंदिर से करीब दो सौ मीटर पहले रोड पर हुआ। हमलावरों ने श्रद्धालुओं को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। उन्होंने महिलाओं और बच्चियों को भी नहीं छोड़ा। आरोप यह भी है कि महिलाओं के जेवर भी लूट लिये गये। इस घटना से इलाके में तनाव है। देर शाम पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया।

महिलाओं को भी पीटा, अभद्रता का आरोप:

रामनगर थाने के सुरजूपुर गांव निवासी शिव भगवान शुक्ला ने मंदिर का निर्माण कराया है। मंदिर में मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा का समारोह चल रहा है। बुधवार को गांव के लोग तीन ट्रैक्टर-ट्रालियों से स्थापित होने वाली मूर्तियों को लेकर लोधेश्वर महादेव मंदिर पूजा के लिए जा रहे थे। बताया जा रहा है कि रजनापुर से थोड़ा आगे श्रद्धालुओं की ओर से उड़ाया जा रहा अबीर समुदाय विशेष के किसी बाइक सवार राहगीर पर पड़ गया। जिसके बाद उसने फोन करके अपने पक्ष के लोगों को सूचना दे दी।

जैसे ही ट्रालियों पर सवार श्रद्धालु महादेवा मंदिर के करीब पहुंचे, भीड़ ने उन पर हमला कर दिया। अचानक हुए हमले से दशहत में आये लोग ट्रालियों से उतरकर भागने लगे। उधर हमलावरों ने लाठी-डंडों से लोगों को पीटना शुरू कर दिया। निहत्थे महिला-पुरुष और बच्चे चीखते-चिल्लाते हुए भागने लगे। इस बीच हमलावरों ने एक दर्जन लोगों को घेर लिया, और उनकी जमकर पिटाई की। बरजोरों की भीड़ ने महिलाओं और बच्चियों को भी नहीं छोड़ा, उनकी भी पिटायी कर दी। महिलाओं का आरोप है उनके जेवर भी लूट लिये गये। आरोप है कि श्रद्धालुओं से छीनकर लड्डू गोपाल की मूर्ति भी फेंक दी गई। इस घटना में आशीष यादव, भानुप्रताप, शोभाराम, मनीराम, गुल्ले यादव, विनय कुमारी, बिट्टू, विनोद, हरी शंकर कोकिला, वर्षा, गुड़िया आदि को चोटें आयी हैं। दूसरे पक्ष के अतीक के भी चोट लगी है।

अचानक हुए हमले के बाद महादेवा के तमाम दुकानदार दुकानें बंद करके भाग निकले। इस बीच किसी ने महादेवा पुलिस चौकी पर मौजूद पुलिस कर्मियों को मामले की जानकारी दी। सूचना मिलते ही वे घटनास्थल पर पहुंच गये। पुलिस को देखकर हमलावर भाग निकले। कुछ ही देर में कोतवाल रामनगर जेएल सोनकर भी फोर्स के साथ पहुंच गए। जिसके बाद घायलों का सीएचसी ले जाया गया।

पीड़ित पक्ष के शिव भगवान ने महादेवा निवासी मुमताज, पप्पू, अतीक, सद्दाम, रियाज, सहवान, चुप्पी, परवेज, हबीब, शान मोहम्मद आदि को नामजद करते हुए तहरीर दी। जिसके बाद पुलिस पर एक दर्जन नामजद, और पचास अज्ञात लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया है। देर रात तक आधा दर्जन लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया था।

इनसेट----------------

महादेवा में भारी पुलिस बल व पीएसी तैनात

रामनगर। महादेवा में तनाव को देखते हुए पीएसी तैनात की गयी है। आसपास के थानों से भी फोर्स बुला ली गयी है। पुलिस ने लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की है। एसडीएम राम नरायन यादव, एसपी अनिल कुमार सिंह, एएसपी दिगम्बर कुशवाहा, आदि अफसर मामले की निगरानी कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Barabanki beaten pilgrims, indecency from women