DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंक में चोरी करने का प्रयास करने वाले 24 घण्टे में गिरफ्तार 

गोंडा जिले में खोरहंसा कांड के आरोपियों को ताबड़तोड़ गिरफ्तार करने के बाद पुलिस को एक और सफलता मिली है। बैंक चोरी का असफल प्रयास करने वालों को पुलिस ने मुठभेड में गिरफ्तार किया है। 

पुलिस मीडिया सेल ने बताया कि वीरेन्द्र प्रताप विश्वकर्मा पुत्र रक्षाराम विश्वकर्मा, तिवारीपुरवा बनकसिया शिवरतनसिंह, राजेश वर्मा पुत्र राममनि वर्मा, साहूगांव और अरविन्द बरूवार पुत्र दीपनारायन  बनकसिया शिवरतनसिंह मनकापुर को गिरफ्तार किया गया है। इनके पास से 1 अदद तमंचा 315 बोर मय 2 खोखा व 1 जिन्दा कारतूस, 2 अदद  चाकू, 2 अदद मोटरसाइकिल बिना नम्बर आदि बरामद किया गया है। 

जैसा कि पुलिस ने बताया : 15 मई को रात्रि थाना धानेपुर क्षेत्र के कस्बा धानेपुर में सर्व यूपी ग्रामीण बैंक में चोरी का प्रयास करने की घटना प्रकाश में आयी थी जिसमें चोरों द्वारा गैस कटर से स्ट्रांग रूम को काटकर कैश चोरी करने का प्रयास किया था। उसी दौरान गश्त कर रही पीआरवी 3432 के हूटर बजने के कारण चोरी करने में नाकाम रहे थे। घटना के सम्बन्ध में थाना में केस दर्ज कर लिया गया था। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक ने तत्काल घटना स्थल का निरीक्षण किया और प्रकरण की गम्भीरता को देखते हुए स्वयं के पर्यवेक्षण में क्षेत्राधिकारी मनकापुर के नेतृत्व में थानाध्यक्ष धानेपुर, स्वाट व सर्विलांस की संयुक्त टीम गठित कर घटना के शीघ्र व सफल अनावरण के लिए निर्देशित किया था। घटनास्थल से साक्ष्य एकत्रित करने के लिये फील्ड यूनिट व डाग स्क्वाड की भी मदद ली गई ।

 पुलिस अधीक्षक के कुशल पर्यवेक्षण के फलस्वरूप क्षेत्राधिकारी मनकापुर के नेतृत्व में किये गये अथक प्रयासों के बाद दिनांक 17 मई को मुखबिर की सूचना पर कोईरीपुर नहर पुलिया के पास से मोटर साईकिलों पर सवार तीन व्यक्तियों को पुलिस मुठभेड में उस समय गिरफ्तार किया गया जब वे पुनः थाना धानेपुर क्षेत्र में सर्राफा व्यापारी को लूटने के इरादे से जा रहे थे। पकडे़ गये व्यक्तियों ने बताया कि 15 मई 15/16 की रात्रि में हम तीनों व्यक्तियों द्वारा कस्बा धानेपुर में स्थित सर्व यूपी ग्रामीण बैंक गैस कटर स्ट्रांग रूम को काटकर कैश चोरी करने का प्रयास किया था। पुलिस की गाड़ी के हूटर की आवाज सुनकर सभी सामान व गैस कटर जलता छोड़कर बैंक से भाग गये थे। 

पहले की गई थी रेकी : यह भी बताया कि अभियुक्त अरविन्द बरूआर की मां का खाता इसी बैंक में होने के कारण हलोगों द्वारा पिछले डेढ़ माह बैंक की रेकी कर इस घटना को अंजाम देने का प्रयास किया था। पकड़े गये तीनों ने अपने व्यक्तिगत शौक को पूरा करने के लिये अपराध करना बताया है। पूर्व में थाना धानेपुर क्षेत्र में चोरी की अन्य घटनाओं को कारित किया जाना भी स्वीकार किया है। 

गिरफ्तार कर्ता टीम : मनोज कुमार सिंह प्रभारी स्वाट टीम, थानाध्यक्ष धानेपुर अतुल चतुर्वेदी, उप निरीक्षक राजकुमार सिंह प्रभारी सर्विलांस सेल, डोरीलाल गंगवार, आशीष कुमार, शादाब आलम, विनोद कुमार पाण्डेय, श्रीनाथ शुक्ला स्वाट, अजय कुमार पाण्डेय, मुलायम यादव स्वाट, राजेन्द्र यादव, अनुज वर्मा, अमित यादव, सतवंत शर्मा, राजू सिंह सर्विलांस सेल शामिल रहे। 
इनाम की घोषणा : पुलिस अधीक्षक द्वारा घटना के शीघ्र और सफल अनावरण के लिये पुलिस टीम को उत्साहवर्द्धन के लिए 10 हजार व घटना के दौरान गश्त कर रही पीआरवी 3432 के कर्मचारियों  को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bank trying to steal arrested in 24 hours