अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बलरामपुर : छह दिन तक पूजन-अर्चन के बाद राधा-कृष्ण मूर्तियों का विसर्जन

 रविवार को नगर के विभिन्न जगहों पर स्थापित की गई राधा-कृष्ण की प्रतिमाओं का प्रतिमाओं का विधि विधान से राप्ती नदी के सिसई घाट पर विसर्जन किया गया। वहीं भगवान श्रीकृष्ण के छट्ठी के अवसर पर शनिवार की देर शाम विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। कई मंदिरों में भगवान श्री कृष्ण के बाल रूप की सुंदर व आकर्षक झांकियां सजाई गईं। कई जगहों पर आयोजित जागरण में देर रात तक श्रोता कृष्ण के भजनों पर झूमते रहे। इस अवसर पर आयोजित विशाल भंडारों में भी भक्तों ने प्रसाद ग्रहण किया। 
श्रीकृष्ण जन्माष्टमी से लेकर छट्ठी तक नगर में उत्सव जैसा माहौल रहा। विभिन्न मंदिरों के साथ-साथ नगर में कई जगहों पर नगर में बने विशाल पण्डाल में राधा-कृष्ण की प्रतिमाएं स्थापित की गई थीं। छह दिनों तक लोगों ने सुबह शाम मंदिर व पण्डालों में जाकर भगवान कृष्ण के विभिन्न रूपों का दर्शन किया। सायंकाल होने वाली कृष्ण की आरती व भजनों से वातावरण भक्तिमय रहा। शनिवार की देर शाम जिले भर में भगवान कृष्ण की छट्ठी मनाई गई। नगर के झारखण्डी मंदिर पर विशाल भण्डारा आयोजित हुआ। जिसमें देर रात तक श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया। मंदिर के व्यवस्थापक लालजी गिरि, उदयभान पाण्डेय, बाबादीन तिवारी, अनिल गिरि आदि ने कार्यक्रम के आयोजन में सराहनीय योगदान दिया। यहां सजाई गई सुंदर झांकी लोगों के आकर्षण का केन्द्र रही। इसी तरह धुसाह, तहसील गेट व पहलवारा में पण्डाल में स्थापित राधा कृष्ण की प्रतिमा के समक्ष लोगों ने पूजा पाठ किया। धुसाह में स्थापित की गई प्रतिमा का श्रद्धालुओं ने गाजे बाजे के साथ जुलूस निकालकर सम्मय माता स्थित तालाब में रविवार को विसर्जन किया। इसी तरह उतरौला रोड भगवतीगंज, बलरामपुर चीनी मिल के पास स्थाापित प्रतिमा पण्डाल में लोगों ने देर रात भजन कीर्तन किया। साहू शिवाला पर छट्ठी पर देर रात कार्यक्रम चलता रहा। कार्यक्रम के आयोजन में  मंदिर के कार्यकर्ता शनि कश्यप, राहुल श्रीवास्तव, करन श्रीवास्तव, मुकेश कश्यप, नरेन्द्र गोपाल, अंकित व त्रिभुवन आदि का विशेष योगदान रहा। इसी क्रम में शिव मंदिर टेढ़ी बाजार व राम हरक ठाकुरद्वारा पर जागरण का आयोजन किया गया। जिसमें देर रात तक श्रद्धालु कृष्ण के भजनों पर झूमते रहे। इस अवसर पर राघवेन्द्र श्रीवास्तव, इंद्र देव पाण्डेय, आजाद, बृजेन्द्र कृष्ण पाण्डेय, राजकुमार चौहान, विनय चौहान, अमित चौहान सहित भारी संख्या में लोग मौजूद थे। इसी क्रम में शनिवार देर शाम भगवतीगंज स्थित श्री राधा कृष्ण मंदिर में स्थानीय लोगों के सहयोग से विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। जिसमें भारी संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया। भंडारे के आयोजन में इकबाल अहमद, भोलू मिश्रा, सोनू चौरसिया, ऋषभ अग्रवाल, दीपक गुप्ता, सुनील गुप्ता, टीनू, प्रवेश आदि का विशेष योगदान था। इस अवसर पर नगर पालिका चेयरपर्सन प्रतिनिधि शाबान अली व सभासद संजय मिश्रा आदि लोग मौजूद थे।  

विधि विधान से हुआ प्रतिमाओं का प्रदर्शन
नगर के विभिन्न स्थानों पर जन्माष्टमी के अवसर पर स्थापित की गई राधा कृष्ण की प्रतिमाओं का रविवार को पूरे विधि विधान से राप्ती नदी में विसर्जन किया। लोगों ने गाजे बाजे के साथ जुलूस निकालकर खूब अबीर गुलाल उड़ाया। डीजे की धुन पर महिला व पुरुष श्रद्धालु थिरकते नजर आए। भगवान कृष्ण के जयकारे के साथ निकले जुलूस में लोग प्रतिमाओं का दर्शन कर रहे थे। रास्ते में श्रद्धालुओं को प्रसाद भी वितरित किया जा रहा था।   

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Balrampur: After six days of worship-abarchan the immersion of Radha-Krishna statues