DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चार दिन से लापता मां-बेटी के शव नदी में उतराते मिले

रहस्य बरकरार

मां के साथ घर से निकली दो अन्य बेटियों का पता अभी तक नहीं चल सका

भैंस चरा रहे बच्चों ने नदी में उतराते शव देखकर शोर मचाया

उतरौला (बलरामपुर)। हिन्दुस्तान संवाद

चार दिन से लापता मां-बेटी का शव स्थानीय थाना क्षेत्र स्थित नंदौरी गांव के निकट राप्ती नदी में बुधवार शाम चार बजे उतराता मिला। मां के साथ घर से निकली दो अन्य बेटियों का अभी तक पता नहीं चल सका है। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

भरवलिया व नंदौरी गांव के बीच स्थित राप्ती नदी किनारे बुधवार शाम लगभग चार बजे भैंस चरा रहे बच्चों ने पानी में दो शव उतराते देखकर शोर मचाया। नंदौरी के चौकीदार बजरंगी ने पुलिस को सूचित किया। बांक भवानी पुलिस चौकी के प्रभारी एसआई सैय्यद खादिम सज्जाद मौके पर पहुंचे। उन्होंने दोनों शवों को बाहर निकलवाया। शवों की पहचान ग्राम पियूरिया थाना त्रिलोकपुर जिला सिद्धार्थनगर निवासी रामधनी की पत्नी शीला देवी (32) व उसकी पुत्री सुमन (9) के रूप में हुई। मौके पर पहुंचे रामधनी ने बताया कि 13 अप्रैल को बच्चों के विवाद में उसने पत्नी को डांटा था। इसके बाद पत्नी नाराज होकर 14 अप्रैल को पुत्रियों सुमन, मोहिनी (7) व निशा (4) ग्राम गोपियापुर थाना त्रिलोकपुर जिला सिद्धार्थनगर स्थित मायके के लिए घर से निकली थी। लेकिन वह मायके नहीं पहुंची। रामधनी के अनुसार उसकी दो बेटियां अभी लापता हैं। उतरौला के प्रभारी निरीक्षक एके राय ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का लगता है। मामले की छानबीन की जा रही है। गुमशुदा बच्चों की तलाश कराई जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:balrampur