अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बहराइच : पिंजरे में फंसा तेंदुआ, जंगल में छोड़ने की तैयारी

दहाड़ से दहशत

तीन माह पूर्व नानपारा रेंज में ही पकड़ा गया था एक तेंदुआ

तेंदुए की आहट व पदचिह्नों से लगाया गया था पिंजरा, अन्दर बांधा गया था मवेशी

बहराइच। हिन्दुस्तान संवाद

बहराइच वन प्रभाग के नानपारा रेंज के बघौली गांव में रविवार की देर शाम शिकार की फिराक में पहुंचा तेंदुआ पिंजरे में कैद हो गया है। उसकी दहाड़ से वनकर्मी भी थर्रा उठे हैं। उसे जंगल में छोड़ने के लिए तैयारी की जा रही है।

नानपारा कोतवाली के बघौली गांव में लम्बे समय से तेंदुए की आहट महसूस की जा रही थी। कई बार पदचिह्न पाए गए थे। दहशत की वजह से लोग शाम को अकेले नहीं निकलते थे। मवेशियों को झुण्ड में ले जाया जा रहा था। इलाके के लावारिश कुत्तों का सफाया हो चुका था। जिससे इस इलाके में तेंदुए के छिपे होने की भनक लग गई थी। डीएफओ के निर्देश पर नानपारा के रेंजर राशिद जमील ने बघौली में शनिवार की शाम तेंदुए के पदचिह्नों के आधार पर पिंजरा लगवाकर उसमें मवेशी बांधा था। शनिवार को सफलता नहीं मिली। लेकिन रविवार की देर शाम पिंजरे में बंधे मवेशी को देखकर शिकार करने के फिराक में आया तेंदुए उसी में कैद होकर रह गया है। रेंजर राशिद जमील ने बताया कि अंधेरा है। तेंदुए के पिंजरे को ढक दिया गया है। उसकी आयु क्या है। वह नर है या मादा है प्रकाश की व्यवस्था होने पर जानकारी हो सकेगी। अफसरों को जानकारी दी गई है। वह मौके पर पहुंच रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bahrich: Leopard trapped in the cage, preparing to leave in the forest