bahraich - मेडिकल स्टोर से 65 लाख की स्मैक बरामद, मालिक गिरफ्तार DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेडिकल स्टोर से 65 लाख की स्मैक बरामद, मालिक गिरफ्तार

काला धंधा

एसएसबी व रुपईडीहा थाने की संयुक्त टीम ने दो तस्करों को किया गिरफ्तार

पड़ोसी देश नेपाल भी भेजी जाती है स्मैक

बहराइच । हिन्दुस्तान संवाद

रुपईडीहा थाने की पुलिस व सशस्त्र सीमा बल की संयुक्त टीम ने गुरुवार रात को एक तस्कर को पांच लाख की स्मैक के साथ गिरफ्तार किया था। उसकी निशानदेही पर शुक्रवार को रुपईडीहा स्थित एक मेडिकल स्टोर पर छापा मारकर 65 लाख की स्मैक बरामद कर उसके मालिक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

एसपी डॉ. गौरव ग्रोवर ने बताया कि रुपईडीहा एसएचओ मधुपनाथ मिश्र को सूचना मिली थी कि एक नेपाली युवक स्मैक लेकर नेपाल जा रहा है। पुलिस व एसएसबी की टीम ने नेपाली युवक गौरव पुत्र रमेश निवासी नेपालगंज (नेपाल) को पहले पांच ग्राम स्मैक के साथ गुरुवार रात को गिरफ्तार किया। इस युवक ने बताया कि यह स्मैक उसने रुपईडीहा के रियाज़ मेडिकल स्टोर से खरीदी है। पुलिस व एसएसबी टीम ने शुक्रवार को रियाज़ मेडिकल स्टोर में छापा मारकर छिपाकर रखी गई 65 लाख रुपए की स्मैक बरामद कर ली। पुलिस ने मौके से मेडिकल स्टोर मालिक रियाज़ अहमद पुत्र नज़ीर निवासी चिकवन मोहल्ला रुपईडीहा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। उसने पुलिस को बताया कि वह लंबे समय से नशीली दवाइयों और मादक पदार्थों की बिक्री कर रहा था और स्मैक और हेरोइन की सप्लाई काठमांडू (नेपाल) तक करता था। वह एक बार नेपाल में स्मैक के साथ गिरफ्तार भी हुआ था। जहां करीब ढाई साल जेल में बंद था।

जेल से छूटकर आने के बाद फिर शुरू किया काला धंधा

बहराइच। नेपाल में जेल से छूट कर आने के बाद रियाज अहमद फिर यह स्मैक और हीरोइन का बड़ा कारोबार करने लगा था। पुलिस ने रियाज़ के विरुद्ध एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जेल भेज दिया है।

रियाज़ के ऊपर कुछ तथाकथित राजनीति से जुड़े लोगों का संरक्षण भी प्राप्त था। यह रोजाना लाखों रुपए इसी धंधे से कमाता था। अभी चार महीने पहले रुपईडीहा प्रभारी निरीक्षक मधुप नाथ मिश्र ने इसी मेडिकल स्टोर पर छापामार कर भारी मात्रा में चाइनीज़ कास्मेटिक समानों की बरामदगी की थी। जो नेपाल से तस्करी कर लखनऊ ले जाने के लिए लाई गई थी। वहीं रुपईडीहा के प्रभारी निरीक्षक मधुप नाथ मिश्र ने बताया कि एसएसबी और पुलिस की संयुक्त टीम ने मेडिकल स्टोर से 65 लाख रुपए की स्मैक बरामद की है। स्मैक के साथ पकड़े गए तस्कर रियाज़ व गौरव को जेल भेज दिया गया है।

साइकिल मरम्मत से बन गया स्मैक तस्कर

बहराइच। रुपईडीहा पुलिस और एसएसबी के हत्थे चढ़ा स्मैक का थोक कारोबारी रियाज़ अहमद पहले रुपईडीहा कस्बे में सेंट्रल बैंक तिराहे के पास अपने पिता नजीर के साथ एक छोटी सी गुमटी में लोगों की साइकिल के पंचर बनाने का काम करता था। धीरे धीरे इसका सम्बन्ध नेपाल के कई बड़े अपराधियों से हो गया, और उसने हीरोइन और स्मैक का कारोबार शुरू कर दिया। देखते ही देखते यह स्मैक का तस्कर बन गया।

रियाज अहमद के तार नेपाल के काठमांडू में बैठे बड़े आकाओं से जुड़ गए, फिर उसने अपना धंधा नेपाल में तेजी से फैलाया। मगर यह सन 2013 में नेपालगंज की पुलिस के हत्थे चढ़ गया और नेपाल पुलिस ने इसे स्मैक के साथ गिरफ्तार कर लिए और यह करीब 28 महीनों तक नेपालगंज की जेल में बंद रहा। वहां से छूट कर आने के बाद इसने रुपईडीहा चकिया मोड़ चौराहे के पास बगैर लाइसेंस का मेडिकल स्टोर खोला और मेडिकल स्टोर में नशीली दवाओं का व्यापार शुरू कर दिया। मेडिकल स्टोर शुरू होने के एक महीने बाद उसने अपना फिर इंडो- नेपाल बॉर्डर पर अपना जाल फैलाया और बड़े पैमाने पर हीरोइन, अफीम और स्मैक का कारोबार करने लगा। रोजाना बड़ी मात्रा में वह नेपाल में हीरोइन सप्लाई करता था। इस धन्धे में इसने अपने सभी भाइयों को भी लगा रखा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bahraich